नाज ! हाॅकी में हारीं पर दिल जीत गईं हाॅकी टीम की बेटियां |
Breaking News उतरप्रदेश खेल

नाज ! हाॅकी में हारीं पर दिल जीत गईं हाॅकी टीम की बेटियां

संवाददाता- मदन गोपाल
टोक्यो ओलंपिक में अपनी दिलेरी और जुझारूपन से इतिहास रचने वाली भारतीय महिला हाॅकी टीम शुक्रवार को ब्रिटेन से हारकर कांस्य पदक से चूक गई । इसके बावजूद उनके प्रदर्शन ने लोगों का दिल जीत लिया और पूरे देश ने उनके प्रदर्शन को खूब सराहा ।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने फोन पर उनसे बात की और उनका हौसला बढ़ाया ।इस दौरान खिलाड़ी अपने आंसू न रोक सकीं ।

नाज ! हाॅकी में हारीं पर दिल जीत गईं हाॅकी टीम की बेटियां |
यह एक ऐसी रोमांचक भिड़ंत थी जिसे देखने के बाद हर कोई हाॅकी की जाबांजों की तारीफ किये बिना नहीं रह सका ।भारत की बेटियां भले ही प्ले ऑफ मैच में हारकर पहले पदक से चूक गईं, पर हाॅकी में उन्होंने एक नई इबारत लिख डाली जो अरसे तक याद रहेगी । उनकी आंखों से निकले आंसुओं के साथ देशवासियों की आंखें भी नम थीं ।

नाज ! हाॅकी में हारीं पर दिल जीत गईं हाॅकी टीम की बेटियां |

उनका सिर गर्व से ऊंचा था क्योंकि उम्मीदों का नया सवेरा हो चुका था ।
आपको बताते चलें कि अभी तक भारतीय महिला हाॅकी टीम ओलंपिक में 3 बार भाग ले चुकी है । सन् 1980 ई. में पहली बार महिला हाॅकी टीम ने ओलंपिक खेला था ।रियो ओलंपिक में भारतीय महिला हाॅकी टीम 12 वें नंबर रही ।