Bihar News: Jeevika Didi became an example of humanity once again
Breaking News बिहार

Bihar News: एक बार फिर मानवता की मिसाल बनी जीविका दीदियां

संवाददाता. मोहन सिंह
बेतिया कोरोना महामारी के दूसरे दौर में एक ओर जहां आदमी अपने अस्तित्व की रक्षा के लिए संघर्षरत है। चारो तरफ एक अजीब सा डर छाया है। लोग अपनों से भी घबड़ाने लगे है। वहीं दूसरी ओर जीविका दीदियों ने एक बार फिर से मानवता को बचाने की मुहिम शुरू कर दी है। जी हां एक बार फिर से जीविका दीदियों ने कोरोना को हराने के लिए बड़ी संख्या में मास्क निर्माण का कार्य शुरू किया है। जीविका दीदियों द्वारा दिन-रात एक कर मास्क निर्माण एवं वितरण का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है । इस दिशा में बगहा 1,बगहा 2, बैरिया ,बेतिया सदर , रामनगर चनपटिया ,मझौलिया,नौतन, भितहा,लौरिया,नरकटियागंज, मैनाटांड़ एवं सिकटा के संकुल संघों तथा ग्राम संगठनों द्वारा मास्क निर्माण का कार्य किया जा रहा है। जीविका दीदियों द्वारा इस चरण में अब तक दो लाख पच्चीस हजार मास्क का निर्माण करते हुए इसका वितरण किया जा रहा है। इस कार्य मे अब तक कुल 472 जीविका दीदियों को शामिल किया गया है।

Bihar News: Jeevika Didi became an example of humanity once again

इस संबंध में सत्याग्रह संकुल संघ के अध्यक्ष सीमा कुमारी बताती हैं कि हम सभी दीदी स्वेच्छा से आगे आकर मास्क निर्माण का कार्य शुरू किया है जिससे कोरोना से लड़ने में हमे कामयाबी मिलेगी साथ ही महामारी के इस दौर में भी गरीब दीदियों को आय का एक साधन मिल रहा है। कर्मभूमि की अध्यक्ष पूजा कुमारी बताती हैं कि हम सभी सुबह 8:00 बजे से मास्क निर्माण सेंटर पर आकर सेंटर की साफ सफाई करते हुए मास्क निर्माण के कार्य में लग जाते हैं। कार्यस्थल पर सामाजिक दूरी बना रहे इसके लिए प्रखंड विकास पदाधिकारी,बगहा 2 के सहयोग से दीदियों को अस्थाई तौर पर एक कार्यस्थल मुहैया कराया गया है । नारी शक्ति संकुल संघ की अध्य्यक्ष नंदा देवी बताती हैं कि सरकार द्वारा जब -जब जीविका दीदियों को किसी भी सामाजिक कार्य में लगाया गया है उसे दीदियों द्वारा पूरे लगन और निष्ठा के साथ करके दिखाया गया है। बलवान जीविका संकुल संघ के अध्यक्ष आभा देवी बताती हैं कि जीविका के आने से हम लोगों के घर में खुशहाली आई है। अब हम लोग घर का काम करने के अलावे अपना अलग रोजगार भी करते है। जिससे परिवार में खुशियाली आई है।इससे गावँ की नारी भी अब आत्मनिर्भर बन रही है।

बता दें कि सरकार के निदेश के आलोक में ग्रामीण क्षेत्र के सभी परिवारों को प्रति परिवार छः की दर से मास्क उपलब्ध कराया जाना है। इसके लिए लगभग 50.00 लाख मास्क का वितरण किया जाना है।पंचायतों में मास्क वितरण का कार्य पंचायत सचिव एवं कार्यपालक सहायक के सहयोग किया जाना है। विभिन्न प्रखंडों से जीविका दीदियों को अब तक कुल नौ लाख मास्क आपूर्ति करने का आदेश प्राप्त हुआ है। जिसके आलोक में जीविका दीदियों द्वारा मास्क निर्माण कर उसकी आपूर्ति की जा रही है। उत्पादन केंद्रों पर सामाजिक दूरी एवं सैनिटाइजेशन की पर्याप्त सुविधा रखते हुए मास्क निर्माण का कार्य किया जा रहा है।लोगों तक गुणवत्तापूर्ण मास्क की आपूर्ति हो सके इसके लिए जीविका के दक्ष कैडर को भी उत्पादन केंद्रों से सम्बद्ध करते हुए इसका अनुश्रवण प्रखंड एवं जिला स्तरीय टीम के द्वारा की जा रही है।.