Breaking News आगरा उतरप्रदेश

Agra News: शव को सड़क पर रखकर प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने अधिकारियों के जाँच कराने के आश्वासन और आर्थिक सहायता के चेक दिए जाने के बाद किया अंतिम संस्कार

संवाददाता सुशील चंद्रा
बाह: जैतपुर के चौराहे पर शव रखकर जाम लगने की सूचना मिलते ही पूर्व कैबिनेट मंत्री अरिदमन सिंह व फतेहाबाद विधायक जितेंद्र वर्मा अपने समर्थकों के साथ जैतपुर पहुंच गए और जाम लगाए बैठे आक्रोशित ग्रामीणों को समझाना बुझाना शुरू कर दिया।

इसी दरम्यान शरारती तत्वों ने भाजपा विधायक वापस जाओ के नारे लगाना शरू कर दिया जिससे मामला गरमा गया और इसी बात को लेकर फतेहाबाद भाजपा विधायक जितेंद्र वर्मा वर्मा की शरारती तत्वों और समाजवादी पार्टी के नेता सुधीर दुबे से नोकझोंक हो गई। फतेहाबाद विधायक जितेंद्र वर्मा ने दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई कराने के आश्वासन पर ग्रामीण शांत हुए और करीब 6 घन्टे बाद जाम खोल दिया ।

फतेहाबाद विधायक जितेंद्र वर्मा और पूर्व कैबिनेट मंत्री अरिदमन सिंह ने मृतक की पत्नी को तीन तीन लाख रुपये की आर्थिक सहायता के चेक दिए है। वहीं उपजिलाधिकारी बाह अब्दुल बासित ने मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक सहायता दिलाने और प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास दिलाने की बात कही।

सुबह से शाम तक बंद रहा जैतपुर कस्बा बाजार

बाह: सुबह से चले धरना प्रदर्शन व जाम के चलते जैतपुर कस्बा का बाजार सुबह से शाम तक बंद रहा। भारी संख्या में पुलिस फोर्स और पी ए सी होने के चलते अफरा-तफरी का माहौल बना रहा ।

एक बार तो हालात बिगड़ते बिगड़ते बच गए। अफरा-तफरी मच गई ।लोगों ने भागना दौड़ना शुरू कर दिया ।जिसमें कुर्सियां भी टूट गयी।प्रशासनिक अधिकारियों में भी हड़कंप मच गया।एडीएम निधि श्रीवास्तव व एसपी ग्रामीण के अशोक बैंकटश ने सूझ बूझ से स्थिति को संभाला ।

ये हैं मृतक के परिजनों की मुख्य मांगे

बाह: मृतक के परिजनों की मांग है कि दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज हो और उन्हें कार्रवाई कर जेल भेजा जाए। मृतक की पत्नी को आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाए। मृतक के बच्चों को एक सरकारी नौकरी दिलाई जाए। और मृतक के लिए सरकारी आवास दिलाया जाए। इन्हीं मांगों पर को लेकर मृतक के परिजन का शव रखकर जाम लगाए हुए थे।

 

पुलिस और प्रशासन की मौजूदगी में किया गया अंतिम संस्कार

प्रशासनिक अधिकारियों के मामले की निष्पक्ष जाँच कराने और दोषियों पर कार्यवाही के आश्वासन और आर्थिक सहायता के चेक दिए जाने के बाद परिजन धन्ना के अंतिम संस्कार करने को राजी हुए जिसके बाद सुबह से लगा हुआ जाम खोल दिया गया।

पुलिस और प्रशासन की मौजूदगी में धन्ना का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

प्रदर्शनकारियों में ये रहे शामिल
प्रदर्शनकारियों में पूर्व विधानसभा प्रत्याशी अंशु रानी निषाद, पूर्व विधानसभा प्रत्याशी सुधीर दुबे,डॉ लेखराज वर्मा, नंदकिशोर कश्यप पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष ,बनी सिंह राजपूत, श्री कृष्ण वर्मा ,नंदकिशोर वर्मा, शिव शंकर राजपूत, आदि लोग मौजूद रहे।