Breaking News इटावा उतरप्रदेश

AgraNews: पिनाहट से लखना देवी नेजा चढ़ाने गई श्रद्धालुओं से भरी कैंटर अनियंत्रित होकर 35 फीट गहरी खाई में गिरी, 12 लोगों की मौत

संवाददाता सुशील चंद्रा
बाह: लखना देवी नेजा चढ़ाने जा रही पिनाहट और बाह के श्रद्धालुओं से भरी कैंटर अनियंत्रित होकर पलट कर 35 फ़ीट गहरी खाई में जा गिरी जिसमें 12 लोगों की मौत हो गयी जबकि 50 श्रद्धालु गंभीर रूप से घायल हैं।

घटना की सूचना पर मौके पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी पहुँच गए।ग्रामीणों की मदद से सभी घायलों को पुलिसकर्मियों ने एम्बुलेंस की मदद से जिला अस्पताल इटावा में भर्ती कराया है जहां से गम्भीर हालत वालों को सैफई मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया।

 

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार दोपहर पिनाहट कस्बा से श्रद्धालु एक कैंटर में सवार होकर लखना वाली माता पर नेजा चढ़ाने के लिए निकले थे तथा बाह पहुँचने पर गढ़ा मोहल्ले से उनके कुछ रिश्तेदार और अन्य भी कैंटर में बैठ कर नेजा चढ़ाने के लिए गए थे।कैंटर में पिनाहट और बाह कस्बा के करीब 60 लोग सवार थे।

 

रास्ते मे थाना बढ़पुरा क्षेत्र के इटावा उदी मोड़ से चकन नगर मार्ग पर कैंटर अनियंत्रित होकर पलटा खाकर करीब 35 फ़ीट गहरी खाई में जा गिरी।घटना स्थल पर चीख पुकार मच गई तत्काल ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी और एम्बुलेंस मौके पर पहुँच गए और तुरंत ही बचाव और राहत कार्य शरू कर दिए गए।सभी श्रद्धालुओं को एम्बुलेंस की मदद से जिला अस्पताल इटावा में भर्ती कराया गया जहां 12 लोगों को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया और गंभीर घायलों को सैफई मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया है।

घटना को लेकर गहरा शोक व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घायलों और मृतकों के परिजनों को 2- 2 लाख रुपए देने की घोषणा की है। मृतकों में जनवेद पुत्र रामदीन उम्र 50 वर्ष रामदास पुत्र अचल सिंह उम्र 70 वर्ष किशन लाल पुत्र बैजनाथ उम्र 75 हाकिम पुत्र राम सिंह उम्र 65 वर्ष निवासी सभी गढ़ा पचौरी बाह महेश पुत्र अज्ञात उम्र 50 वर्ष राजेंद्र पुत्र गंगादीन उम्र 50 वर्ष राजेश पुत्र छोटेलाल उम्र 40 वर्ष आम का पुरा मनोज पुत्र राम ज्ञान उम्र 35 वर्ष लालू पुत्र रामदीन उम्र 42 वर्ष बनवारी पुत्र गोपाल सिंह उम्र 50 वर्ष सभी निवासी आम का पुरा बाह गुलाब सिंह पुत्र दीवान सिंह उम्र 45 वर्ष निवासी अस्पताल के पीछे पिनाहट व एक महिला ओमवती पत्नी बनवारी लाल उम्र 75 वर्ष निवासी गढ़ा पचौरी शामिल हैं।

वहीं हादसे की सूचना मिलते ही पिनाहट और बाह कस्बे में घायल और मृतकों के घर कोहराम मच गया है।