Breaking News बिहार

Vaishali News : अंन्धरबाड़ा पंचायत के जन वितरण दूकानदार ज्ञानेश्वर ठाकुर पर झुठे आरोप मे उनकी दूकान को हाजीपुर अंनुमंडल पदाधिकारी ने किया रद्द

संवाददाता-राजेन्द्र कुमार : हाजीपुर प्रखंड अतर्गत अन्धरबाड़ा पंचायत के जनवितरण दूकानदार ज्ञानेश्वर ठाकुर का दूकान झुठे आरोप मे हाजीपुर अनुमंडल पदाधिकारी ने किया रद्द।परन्तु अंनधरबाड़ा पंचायत के लोगो का कहना है कि यह आरोप सरेआम गलत था।हमलोगो को हर महीना मे ज्ञानेश्वर ठाकुर ने राशन किरासन दिया करते थे।शिकायत कर्ता का कहना है कि नोबंवर का राशन डिलर ने कालाबजारी कर दिया है लेकिन उपभोक्ता का कहना है कि मुझे प्रत्येक महीना का अनाज मै उठाया हूँ।जनता का यह भी कहना है कि अगर कोई एसडीओ साहब के पास कालाबजारी का शिकायत किया है तो उन्हें अंनधरबाड़ा पंचायत मे आकर उसका पंचायत वासियो के समक्ष उसका जांच करते अगर सही मे कालाबजारी का शिकायत सही साबित होता तो डिलर के उपर कानूनी कारवाई करते।लेकिन ऐसा अंनुमंडल पदाधिकारी ने नही किया।यह शिकायत सिर्फ पांच महिला ने गलत आवेदन देकर सारे कार्डधारकों को समस्या मे झोक दिया है।

अंन्धरबाड़ा पंचायत के जन वितरण दूकानदार ज्ञानेश्वर ठाकुर पर झुठे आरोप मे उनकी दूकान को हाजीपुर अंनुमंडल पदाधिकारी ने किया रद्द

अब यहाँ के जनता का कहना है कि बिना अंगुठा के निशाना लगाए राशन नही मिलता है तो फिर डिलर कैसे कालाबाजारी करेगा।एसडीओ साहब ने कागज पर ही जांच कर ज्ञानेश्वर ठाकुर का दूकान रद्द कर दिए।यह कहाँ का इंसाफ है कौन सा कानून के बुक मे लिखा है कि बिना जांच किए दोसी को फांसी के फंदे पर लटका दो यही सुशासन बाबु की सरकार मे अधिकारी लोग कागज पर ही सब कुछ हो जाता है।इससे साबित होता है कि कही न कही अधिकारी शिकायत कर्ता से मिले हूए होगे।अंधरबाड़ा पंचायत के जनता का कहना यह भी है मुझे राशन अपने पंचायत मे ही लूँगा दूसरे पंचायत मे राशन लेने नही जाउँगा।जब तक अधिकारी कोई ठोस निर्णय नही लेगे तब तक सड़क को जाम करके रखूंगा।अगर हमारी मांग पूरा नही होगा।तो रोड पर सभी जनता उतरेगी।
स्थानीय जनता का यह भी कहना है कि ये सब बिचौलियों ने ज्ञानेश्वर ठाकुर का दूकान जान बुझकर खत्म कराया गया है।