Breaking News उतरप्रदेश सम्भल

Sambhal News: टीबी अभी भी किलर डिज़ीज़ कैटेगरी मे-नाज़िश नसीर खाँन

भूपेंद्र सिंह संवाददाता

सम्भल( सराय तरीन) हयूमन केयर चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वाधान में विश्व टीबी दिवस के अवसर पर ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने टीबी रोग की रोकथाम के लिए रैली निकालकर लोगों को जागरूक किया।
ट्रस्ट के संस्थापक *नाज़िश नसीर खाँ* ने कहाकि क्षयरोग लोगों व समाज के लिए किसी अभिशाप से कम नहीं है क्षयरोग से समाज को बचाना है और मोदी जी के 2025 तक देश को क्षयरोग मुक्त करने के सपने को साकार करना है,तम्बाकू का सेवन करने वाले ज़्यादातर लोग इस बीमारी की ज़द मे आते है। मोदी सरकार ने अब टीबी के मरीज़ो को हर माह 500 रूपये देने का निर्णय लिया है। जो कि सरहानीय कदम है। डब्ल्यूएचओ के अनुसार हर दिन लगभग 4000 लोग टीबी से अपनी जान गंवा देते हैं 28000 के करीब इस बीमारी की चपेट में आ जाते हैं
*ज़ैन पठान* ने कहाकि तम्बाकू के इस्तेमाल को बंद करें और अपने स्वास्थ्य को सही रखे।
पौष्टिक और संतुलित आहार न मिलने के कारण यह बीमारी लगातार बढती जा रही हैं।
टीबी एक भयंकर बीमारी है जागरूक होने पर इससें बचा जा सकता है।
*नाज़िर खाँन* ने कहाकि टीबी बीमारी का इलाज समय पर ना होने पर यह एक जानलेवा बीमारी का रूप धारण कर लेती है क्षयरोग बीमारी से पीड़ित व्यक्ति बीमारी के कारण धीरे धीरे मरने लगता है।
*मु०ज़ुबैर* ने कहाकि दुनिया में लाखों लोगों में हर साल टीबी के लक्षण पाए जाते हैं इनमें से अधिकतर लोगों की मौत हो जाती है, हिंदुस्तान के सभी बड़े तालों में अस्पतालों में टीबी का इलाज मुफ्त किया जाता है, टीबी हारेगा देश जीतेगा टीबी एक अभिशाप है।
तंदुरुस्त शरीर बनाना है बीमारी को दूर भगाना है आदि स्लोगन लिखी तख्तियां हाथो मे लिए थे ट्रस्ट के सदस्यों ने धूल के काम करने वाले कारीगरो को मुफ्त मास्क बाटे। इस अवसर परमु मुक़ीम’मु क़ासिम,शान मुहम्मद,मु वसीम,समीर,ज़ियाउल,
मिन्ज़ार,कैफ ज़ैदी आदि मौजूद रहे।