Breaking News इटावा उतरप्रदेश मेरठ

मेरठ न्यूज: खाद्य अधिकारी कार्यायल से नदारद।

संवाददाता: मनीष गुप्ता

भारत सरकार द्वारा देश भर में घर घर में अनाज जा सके। इसके लिए राशन कार्ड बनवाने का कार्य शुरू किया गया। ताकि हर गरीब भाई को खाने के लिए चावल और अनाज मिल सके। और वो भूखा ना सोए। राशन कार्ड बनवाने की प्रक्रिया को ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। जिसमे में आपके कुछ पेपर लगाने होगे। और आपका राशन कार्ड बन जाएगा। लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। ऑनलाइन आवेदन के बाद भी लोगो खाद्य अधिकारी के ऑफिस के चक्कर काटने पड़ रहे हैं।

Meerut News: Food officer absent from office.

रोजाना ऑफिस कम से कम 100 लोगो की भीड़ जमा रहती है। दूसरी और अधिकारी अपने ऑफिस में नहीं है। पूरा ऑफिस खाली पड़ा है। कंप्यूटर पर राशन कार्ड की एंट्री करने के लिए मात्र दो व्यक्ति बैठे हैं। और भीड़ है 100 लोगो की। कैसे बनेगा राशन कार्ड। लोग सुबह से ही भूखे प्यासे लाइन में खड़े हो जाते हैं। कई कई घंटे इंतजार करना पड़ता है। तब कही जाकर उनका नंबर आता है। अगर अधिकारी अपने ऑफिस में तो क्या काम जल्दी होगा या नहीं। बताओ। किसी का नाम नहीं चढ़ा, किसी का फोटो नही, कुछ ना कुछ कमी बता दी जाती है। जिस कारण यह लोग वहा से वापिस आ जाते है। और यह लोग सरकार द्वारा दिए जा रहे राशन का लाभ नही उठा पाते है। और भूखे ही अपने घर में आकर सो जाते हैं।

Facebook Notice for EU! You need to login to view and post FB Comments!