Breaking News इटावा उतरप्रदेश

Etawah News: गुस्साए लोगों ने कोविड अस्पताल में की तोड़फोड़

इटावा: जिला अस्पताल में स्थापित 100 शैया एमसीएच विग कोविड अस्पताल में मंगलवार को कई मरीजों की मौत होने के बाद दोपहर बाद उनके तीमारदारों का गुस्सा फट पड़ा। उन्होंने गुस्से में आकर जमकर हंगामा किया। वहां पर ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर व वार्डबॉय से खूब कहासुनी हुई। मुख्य द्वार के शीशे को तोड़ दिया गया। सूचना मिलने के बाद एसडीएम सदर सिद्धार्थ व सीओ सिटी राजीव प्रताप सिंह मौके पर पहुंचे और तीमारदारों को समझाया।

बताया गया है कि जसवंतनगर क्षेत्र के रायनगर के रहने वाले एक संक्रमित की मौत हो गई थी। इलाज में लापरवाही को लेकर उसके स्वजन गुस्सा गये थे और हंगामा करने लगे और उन्होंने गुस्से में अस्पताल के मुख्य गेट का शीशा भी तोड़ दिया। स्वजन ने आरोप लगाया कि तीन घंटे तक उनका मरीज कोविड अस्पताल में पड़ा रहा लेकिन उसको कोई डॉक्टर देखने नहीं गया, नतीजा यह हुआ कि उसकी मौत हो गई। यहां पर ऑक्सीजन भी नहीं है। बकेवर के गीतेश मिश्रा ने बताया कि अस्पताल में बुरा हाल है। उन्होंने बताया कि जिस मरीज की मौत हुई है उसे ऑक्सीजन देने से मना कर दिया गया। हमारा मरीज भी हमारा भर्ती है, बड़ी मुश्किल से हम ऑक्सीजन की व्यवस्था कर पा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी बिल्कुल निष्क्रिय हैं वह कोई व्यवस्था नहीं देख रहे हैं। बाथरूम भी गंदे पड़े हैं उन्हें कोई देखने वाला नहीं है। प्रशासन व्यवस्थाओं के बड़े दावे कर रहा है लेकिन उसके यह दावे झूठे हैं।

एसडीएम सदर सिद्धार्थ ने बताया कि ऑक्सीजन निरीक्षण के दौरान पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। ड्यूटी पर तैनात ऑक्सीजन प्रभारी डा. यतेंद्र राजपूत ने 17 सिलिडर व 45 कंसनट्रेटर की उपलब्धता के बारे में जानकारी दी है। सीएमओ डा. एनएस तोमर ने बताया कि एक मरीज की मौत हो गई थी उसके बाद लोगों को गुस्सा आ गया था यह स्वाभाविक है। व्यवस्थाएं सभी ठीक हैं। रात से केवल दो लोगों की मौत हुई है।