Breaking News इटावा उतरप्रदेश

Etawah News: बस और डंपर की टक्कर में एक युवक की मौत ।

आशीष कुमार

इटावा।सैफई बस और डंपर की टक्कर में चौबेपुर गांव के एक युवक की मौत हो गई जबकि डेढ़ दर्जन लोग घायल हुए हैं जिन्हें सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती कराया गया है।
सैफई क्षेत्र के चौबेपुर गांव से लगभग 40 छात्र कंप्यूटर का ट्रिपल सी एग्जाम देने छतरपुर मध्य प्रदेश बस से गए थे। वापस आते समय अनंतराम टोल के बाद सुबह 5 बजे बाबरपुर ओवर ब्रिज पर बस ड्राइवर ने बस को डंपर के पीछे से टक्कर मार दी जिसमें तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिनमें अंकुर कुमार 26 वर्ष, ऋषभ यादव 18 वर्ष, अनुराग यादव, दीपक यादव 19 वर्ष, राधेश्याम यादव को सैफई पीजीआई भर्ती कराया गया जहां पर अंकुर कुमार की मृत्यु हो गई तथा ऋषभ यादव और दीपक यादव की स्थिति गंभीर बनी हुई है यह दोनों अभी वेंटिलेटर पर हैं। डॉक्टर अभी भी इनकी स्थिति के बारे में कुछ भी कहने में समर्थ नहीं हैं। अंकुर की मौत के बाद उसकी पत्नी ज्योति का रो रो कर बुरा हाल है। उसकी शादी अभी 2 साल पहले ही हुई थी अभी तक कोई संतान भी नहीं थी। ज्योति के पेट में अभी पंकज का बच्चा पल रहा है।
घटना के समय बस में सवार सौरभ व अंकुश ने बताया कि घटना स्थल से पूर्व 5 किलोमीटर पहले ड्राइवर को नींद आने पर उसने आराम भी किया था। बस 100 किलोमीटर प्रति घंटा के करीब तेज़ गति से चल रही थी तभी एक तेज धमाका हुआ और चारों तरफ चीख-पुकार मच गई। घटना के बाद 112 अथवा 108 डायल करने पर भी कोई भी सकारात्मक सहयोग नहीं मिला समय से सहायता मिल जाने पर अंकुर कुमार की जान बचाई जा सकती थी। बताया गया है कि करहल स्थित एक कंप्यूटर सेंटर से फॉर्म भरवा कर ट्रिपल सी की परीक्षा के लिए छतरपुर भेजे गए थे। लौटते हुए यह दुर्घटना हो गई। बस और डंपर की टक्कर में चौबेपुर गांव के एक युवक की मौत हो गई जबकि डेढ़ दर्जन लोग घायल हुए हैं जिन्हें सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती कराया गया है।
सैफई क्षेत्र के चौबेपुर गांव से लगभग 40 छात्र कंप्यूटर का ट्रिपल सी एग्जाम देने छतरपुर मध्य प्रदेश बस से गए थे। वापस आते समय अनंतराम टोल के बाद सुबह 5 बजे बाबरपुर ओवर ब्रिज पर बस ड्राइवर ने बस को डंपर के पीछे से टक्कर मार दी जिसमें तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिनमें अंकुर कुमार 26 वर्ष, ऋषभ यादव 18 वर्ष, अनुराग यादव, दीपक यादव 19 वर्ष, राधेश्याम यादव को सैफई पीजीआई भर्ती कराया गया जहां पर अंकुर कुमार की मृत्यु हो गई तथा ऋषभ यादव और दीपक यादव की स्थिति गंभीर बनी हुई है यह दोनों अभी वेंटिलेटर पर हैं। डॉक्टर अभी भी इनकी स्थिति के बारे में कुछ भी कहने में समर्थ नहीं हैं। अंकुर की मौत के बाद उसकी पत्नी ज्योति का रो रो कर बुरा हाल है। उसकी शादी अभी 2 साल पहले ही हुई थी अभी तक कोई संतान भी नहीं थी। ज्योति के पेट में अभी पंकज का बच्चा पल रहा है।
घटना के समय बस में सवार सौरभ व अंकुश ने बताया कि घटना स्थल से पूर्व 5 किलोमीटर पहले ड्राइवर को नींद आने पर उसने आराम भी किया था। बस 100 किलोमीटर प्रति घंटा के करीब तेज़ गति से चल रही थी तभी एक तेज धमाका हुआ और चारों तरफ चीख-पुकार मच गई। घटना के बाद 112 अथवा 108 डायल करने पर भी कोई भी सकारात्मक सहयोग नहीं मिला समय से सहायता मिल जाने पर अंकुर कुमार की जान बचाई जा सकती थी। बताया गया है कि करहल स्थित एक कंप्यूटर सेंटर से फॉर्म भरवा कर ट्रिपल सी की परीक्षा के लिए छतरपुर भेजे गए थे। लौटते हुए यह दुर्घटना हो गई।

Facebook Notice for EU! You need to login to view and post FB Comments!