Breaking News बिहार

Bihar News: गेंहू खरीद सरकारी रेट 1975/- प्रति क्विंटल अविलंब खरीदने की शुरुआत हो-किसान महासभा

संवाददाता मोहन सिंह

बेतिया: किसानों के गेहूं की न्यूनतम समर्थन मूल्य अर्थात सरकारी रेट पर गेहूं खरीद की अविलंब खरीदने की गारंटी करने, पंचायत स्तर पर गेहूं क्रय केंद्र खोलने, न्यूनतम समर्थन मूल्य अर्थात एम एस पी की गारंटी करने की मांग को लेकर अखिल भारतीय किसान महासभा व भाकपा-माले पश्चिम चंपारण के नेतृत्व में नेताओं समर्थकों ने अपने अपने घरों पर धरना दिया।
धरना के बाद अखिल भारतीय किसान महासभा के राज्य कार्यकारिणी सदस्य व किसान महासभा के जिलाध्यक्ष सुनील कुमार राव ने विज्ञप्ति जारी कर बताया कि नीतीश सरकार ने बड़ी ताम झाम के साथ बिहार में रबी फसलों को सरकारी रेट अर्थात एम एस पी पर 1975रूपया खरीदने की घोषणा किया था किन्तु अब तक जिले में कहीं भी कोई अनाज खरीद केंद्र सरकार ने नहीं खोला है। सरकारी घोषणा सफेद हाथी साबित हो रहा है। किसानों को अपने गेंहू को बिचौलियों से औने पौने दामों में बेचना पड़ रहा है। किसान बेबस हो गेहूं कम मुल्य पर बेचने को बाध्य हैं। महासभा के जिलाध्यक्ष ने कहा कि सरकारी रेट पर गेहूं खरीद नहीं हो रहा है और दुसरी तरफ डी ए पी का मुल्य 700रूपया प्रति बोरी बढ़ा दिया गया है जिससे किसानों का कमर टूट सा गया है। किसान अपने उत्पादों का सरकारी रेट पर खरीद नहीं हो ने से काफी परेशान हैं। महासभा के जिलाध्यक्ष ने कहा दिल्ली बार्डर पर किसान अपने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एम एस पी) के लिए पांच माह से आंनदोलित है।वे अपने उत्पादों का न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी करने की हीं बात कर रहे हैं लेकिन सरकार को वहीं मंजूर नहीं है। किसान महासभा के जिलाध्यक्ष ने कहा कि आज गेहूं खरीद की अविलंब खरीदने की मांग पर जिले के बडहां, नरकटियागंज और बेतिया अनुमंडल के दर्जनों गांवों में किसानों ने धरना दिया तथा अपने एम एस पी गारंटी करने व अनाज खरीद केंद्र खोलने की मांग किया है। धरना बैरिया के बगहीं, तधवांनंदपुर, बैरिया,लौकरिया बेतिया के आइ टी आई,पीपरा सिकटा के सरगटिया, सिरिसिया,मैंनाटांड के रमपुरवा,मैनाटांड गौनाहा के धनौजी नरकटियागंज के नरकटियागंज और बगहां के कैलाश नगर समेत दर्जनों गांवों में किसानों ने अपने अपने घरों पर धरना दिया। फोटो