Breaking News

Bihar news : बाढ़ एवं अतिवृष्टि से किसानों के बर्बाद हुए गन्ना का 40000/ धान का 20000/ फसलों का मुआवजा दे सरकार –किसान महासभा

संवाददाता : मोहन सिंह बेतिया । असमय बरसात एवं बाढ़ से बर्बाद फंसलो की सरकार ने अबतक सर्वे करा कोई मुआवजा नहीं दिया जिसको लेकर किसानों में भारी आक्रोश है। सरकार किसानों के बर्बाद हुए गन्ना का 40000रुपया एवं धान का 20000रुपया मुआवजा दे। उक्त बातें अखिल भारतीय किसान महासभा पश्चिम चंपारण के जिला अध्यक्ष सुनील कुमार राव ने बैरिया कृषि कार्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि भाजपा जदयू सरकार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जब बाढ़ प्रभावित पश्चिम चंपारण जिले का हवाई सर्वेक्षण किया तो किसानों को लगा कि सरकार जरूर किसानों की सुनेगी। लेकिन अब एक माह हुए कुछ भी नहीं हुआ। ऐसे में किसान महासभा ने यह तय किया कि विधानसभा के सत्र शुरू होने के दिन बहरी सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाने के लिए जिले के सभी प्रखंडों के कृषि कार्यालय पर प्रदर्शन कर अपनी मांगों को बुलंद किया जाए।

 

Bihar news : बाढ़ एवं अतिवृष्टि से किसानों के बर्बाद हुए गन्ना का 40000/ धान का 20000/ फसलों का मुआवजा दे सरकार --किसान महासभा उन्होंने कहा कि सरकार बर्बाद हुए गन्ना फसल का 40000 हजार रुपए एवं धान फसल का 20000 हजार रुपए प्रति एकड़ मुआवजा दे। मुखिया नवीन कुमार ने कहा कि सरकार किसानों का के सी सी क़र्ज़ माफ करें। मौके पर ठाकुर साहब, अखिलेश प्रसाद,बिनोद कुशवाहा,जोखू चौधरी, सुरेंद्र साहब, महमूद आलम, राजेंद्र प्रसाद, धर्मेंद्र कुशवाहा आदि किसान नेता मौजूद थे।