Breaking News बिहार: बेतिया

Bihar news देश के विकास के लिए कृषकों की तरक्की आवश्यक : गन्ना उद्योग मंत्री

संवाददाता मोहन सिंह बेतिया

गन्ना उद्योग मंत्री, बिहार, प्रमोद कुमार ने कहा कि किसानों की तरक्की के बिना देश का विकास संभव नहीं है। गन्ना किसानों की बेहतरी के लिए जिला प्रशासन प्रयास करें ताकि किसानों की आर्थिक उन्नति हो सके तथा जिले के विकास में गन्ना किसान भी अपना बेहतर योगदान दे सकें। उन्होंने कहा कि गन्ना की उन्नत कृषि के लिए गन्ना किसानों को उन्नत प्रभेद दिया जाय ताकि पैदावार अच्छी हो सके तथा गन्ना किसानों को लाभ मिल सके। गन्ना उद्योग मंत्री, बिहार आज समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित समीक्षात्मक बैठक में अधिकारियों को निदेशित कर रहे थे।

 

मंत्री ने कहा कि पश्चिम चम्पारण जिले में लगभग 145000 हेक्टेयर में गन्ने की खेती होती है, जो बिहार में कुल गन्ने की खेती का 50 प्रतिशत है। यह अच्छी बात है। उन्होंने कहा कि जिले के किसानों को अन्तरवर्ती खेती का अनुदान बीज के लिए दिया जाय। गन्ना के 10 प्रकार के प्रभेद हैं। उतम क्वालिटी के ईंख के बीज का दस हजार हेक्टेयर में उत्पादन कराना सुनिश्चित करें। साथ ही आलू अन्तरवर्ती खेती के लिए भी किसानों को जागरूक एवं प्रेरित किया जाय।

 

 

उन्होंने कहा कि कृषकों हेतु संचालित विभिन्न विकासात्मक एवं कल्याणकारी योजनाओं का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार सुनिश्चित किया जाय ताकि किसान लाभान्वित हो सके। साथ ही कार्यशाला का आयोजन कर कृषकों को प्रशिक्षण भी दिलाया जाय।

मंत्री ने कहा कि बिहार का गन्ना बिहार के चीनी मिल में ही जाना चाहिए। बिहार से बाहर नहीं जाना चाहिए, जिला प्रशासन को इस हेतु समुचित व्यवस्था की जाय। उन्होंने कहा कि चीनी मिल को सरकार अनुदान दे रही है, चीनी मिलें इससे संबंधित जानकारी बोर्ड, फ्लेक्स के माध्यम से किसनों को उपलब्ध करायें।

 

 

ईंख आयुक्त, बिहार, गिरीवर दयाल सिंह ने कहा कि पश्चिम चम्पारण जिला गन्ना उत्पादक जिला है। गन्ना का उत्पादन करने वाले किसानों को जागरूक किया जाय। नये वेरायटी के बारे में गन्ना किसानों को बताया जाय, जिससे उन्हें लाभ मिल सके। उन्होने कहा कि पश्चिम चम्पारण जिले के चार चीनी मिलों में बैठक कर किसानों को जागरूक एवं प्रेरित किया गया है। आज मझौलिया चीनी मिल में बैठक का आयोजन कर किसानों को जागरूक किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों से टॉल टैक्स नहीं लेना है। साथ ही चुंगी भी नहीं लिया जाना है। ऐसा करने वालों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की जायेगी। उन्होंने कहा कि बारिश के कारण वॉटर लागिंग की स्थिति में ईंख की फसल की क्षति हुयी है। इसकी उच्च स्तर पर समीक्षा की जायेगी। जिला कृषि पदाधिकारी ईंख फसल क्षति से छूटे हुए किसनों का संबंधित पोर्टल पर अपडेशन कार्य सम्पन्न करायेंगे। फसल क्षति की जानकारी ऑनलाइन करने के लिये किसानों का मार्गदर्शन भी करायेंगे।

समीक्षा के क्रम में माननीय विधायक, चनपटिया द्वारा घटतौली आदि से संबंधित जानकारी दी गयी है। जिस पर माननीय मंत्री ने त्वरित कार्रवाई करने का निदेश जिला कृषि पदाधिकारी, ईंख पदाधिकारी को दिया गया।

 

 

Bihar news देश के विकास के लिए कृषकों की तरक्की आवश्यक : गन्ना उद्योग मंत्रीसमीक्षा बैठक के उपरांत माननीय मंत्री द्वारा जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। जागरूकता रथ गांव-गांव जाकर किसानों को विभिन्न योजनाओं की जानकारी देगा। साथ ही फसल अवशेष प्रबंधन आदि विषयों की भी जानकारी किसानों को प्रदान करेगा।

इस अवसर पर सहायक निदेशक, गन्ना उद्योग विभाग, संयुक्त निदेशक, गन्ना उद्योग विभाग सहित, अपर समाहर्ता, अनिल राय, जिला कृषि पदाधिकारी, विजय प्रकाश, एसडीएम, बेतिया, विनोद कुमार, जिले के सभी चीनी मिलों के प्रबंधक/प्रतिनिधि आदि उपस्थित रहे।