Breaking News बिहार

Bihar News: नवविवाहिता की हत्या कर शव को किया गायब

नवीन कुमार संवाददाता

वैशाली सहदेई-बुजुर्ग ओपी के मजरोही रघुनंदन गांव में एक विवाहिता की हत्या कर शव को गायब कर देने के मामले को लेकर विवाहिता के परिजनों द्वारा सहदेई बुजुर्ग ओपी में ससुराल वालों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई वही इस संबंध में ओपी क्षेत्र के मजरोही रघुनंदन गांव निवासी विक्रम कुमार की पत्नी पूनम कुमारी की हत्या कर शव को गायब कर देने का आरोप पूनम के ससुराल वालों पर लगाते हुए पूनम के पिता कटिहार जिला के कोढा थाना क्षेत्र के सेमापुर बिंजी गांव निवासी गनौर सिंह के पुत्र रामचंद्र सिंह ने सहदेई बुजुर्ग ओपी में प्राथमिकी दर्ज कराई है।इस प्राथमिकी में पूनम कुमारी के पति नवल किशोर सिंह के पुत्र विक्रम कुमार भैंसुर चंदन कुमार,बहन गुड़िया देवी एवं चंदन कुमार की पत्नी डोली कुमारी को आरोपी बनाया गया है।प्राथमिकी में आरोप लगाया गया है कि ससुराल वालों द्वारा पूनम कुमारी के साथ मारपीट और गाली गलौज किया जा रहा था।साथ ही जान से मारने की धमकी दी जा रही थी।दहेज नहीं देने के कारण इन लोगों ने पूनम कुमारी की हत्या कर शव को गायब कर दिया।पूनम कुमारी का एक छोटा बच्चा है उसको भी लापता कर दिया गया है।प्राथमिकी में कहा गया है कि पूनम की शादी विक्रम कुमार से 19 फरवरी 2018 को हिंदू रीति रिवाज से हुई थी। 29 मार्च की सुबह विक्रम कुमार दो अन्य लोगों के साथ सेमापुर बिंजी गांव आया और पूनम कुमारी को विदाई करा कर घर ले गया। 30 मार्च की रात में पूनम से फोन पर बात हुई।लेकिन 31 की सुबह 5:00 बजे फोन कर विक्रम कुमार ने बताया कि पूनम कुमारी की तबीयत खराब है।इसलिए वह हाजीपुर जा रहे हैं।सुबह 9:00 बजे तक जब कोई सूचना नहीं मिला तो दोबारा फोन करने पर उसने फोन बहन को दे दिया और उसने बताया कि पूनम की तबीयत ठीक है।लेकिन 10:30 बजे उनके भगीना जसवीर कुमार सिंह को फोन कर विक्रम कुमार के बड़े भाई चंदन कुमार ने बताया कि पूनम की मौत हो चुकी है और अभी वह छोटी मरई स्थित आदर्श हॉस्पिटल में है।लेकिन जब तक वह लोग हॉस्पिटल पहुंचते तब तक सभी लाश लेकर गायब हो गया।आदर्श हॉस्पिटल में बताया गया कि यह जहर खाने का केस था।पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज करते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है।वहीं इस मामले को लेकर कुछ अन्य चर्चाएं भी गांव में हो रही है।विक्रम कुमार के परिजनों ने पूनम की हत्या किए जाने की बात से इनकार करते हुए कानून से न्याय की गुहार लगाई है।