Breaking News बिहार

Bihar News: अंबेडकर जयंती पर भाकपा-माले की अपील, मुर्ति तोड़ने से बाबा साहेब आंबेडकर के विचारों को खत्म नहीं किया जा सकता

संवाददाता मोहन सिंह

बेतिया भाकपा माले ने अंबेडकर जयंती पर बैरिया कार्यालय पर बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर जयंती समारोह आयोजित किया जिसमें बाबा साहेब आंबेडकर के फोटो पर माल्यार्पण किया गया। उक्त अवसर पर बैठक को संबोधित करते हुए भाकपा माले नेता सुनील कुमार राव ने कहा कि डा• भीमराव अम्बेडकर देश के शोषित, उत्पीड़ित लोगों की आजादी के सपनो के नायक थे। हम उन्हें संविधान निर्माता के रूप में जानते हैं,
आज हम एक ऐसी सरकार का सामना कर रहे हैं जो अगर वास्तव में भारत हिन्दू राष्ट्र बन जाता है तो निसंदेह इस देश के लिए एक भारी खतरा उत्पन्न हो जाएगा।हिन्दूत्व स्वतंत्रता, समानता और बंधुत्व के लिए खतरा है।इस आधार पर लोकतंत्र के लिए यह अनुपयुक्त है। हिंदू राज को हर कीमत पर रोका जाना चाहिए। सुरेन्द्र चौधरी ने कहा कि मोदी सरकार संसदीय लोकतंत्र की संस्थाओं का उल्लंघन करते हुए, काम करना पसंद करती है, जैसे – तमाम विपक्षी राजनीतिक दलों सहित देश के तमाम किसान संगठनों के विरोध के बावजूद, गैरसंसदीय कार्रवाही के जरिये जबरन तीनों कृषि कानून पास कर दिया है, इस काला कानून के विरोध में चार माह से उपर हो गया है, देशव्यापी किसान आंदोलन आज भी जारी है,
बिहार में जदयू – भाजपा की सरकार ने विगत विधानसभा सत्र के दौरान विपक्षी माननीय विधायकों को पुलिस द्वारा घसीटते हुए बाहर निकालने और फिर लात-घूसों से उनकी बर्बर पिटाई कर विपक्ष विहीन सदन में पुलिस के बल पर नया पुलिस बिल–बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस बिल पास कर लिया है ।अब पुलिस को यह अधिकार होगा कि बिना किसी मुकदमा के जब चाहे गिरफ्तार कर सकतीं है, इस कानून के मुताबिक पुलिस किसी को कितना ही जुल्म करे या किसी को फर्जी इनकाउंटर कर दे न्यायलय कुछ भी नहीं कर पायेगा, इतिहास गवाह है, इस प्रकार के कानूनों का इस्तेमाल हमेशा गरीबों, न्याय के पक्ष में आवाज उठाने वाले छात्र- नौजवानों व समाजिक कार्यकर्ताओ के खिलाफ होते आया है ।जोखू चौधरी ने कहा भारत की सच्चे लोकतांत्रिक आधार पर पुनर्कल्पना और पुनर्निर्माण के कार्यभार को पूरा करने में अंबेडकर की आमूल परिवर्तन हमारे लिए स्पष्टता और शक्ति हासिल करने का बहुमूल्य स्रोत हैं,
आइये, इस संघर्ष में कंधे से कंधा मिलाएं और डा0 अम्बेडकर के सपनों को साकार करें।इस अवसर पर भाकपा माले नेता ठाकुर साह, बिनोद कुशवाहा,मोजमिल हुसैन, आशा राम, संजय कुशवाहा, धर्मेंद्र प्रसाद आदि नेता उपस्थित रहे।