Meerut News: The shadow on the road became a danger for the commuters.
Breaking News इटावा उतरप्रदेश मेरठ

मेरठ न्यूज: आने जाने वालों के लिए खतरा बना सड़क पर छाया अंधेरा।

संवाददाता: मनीष गुप्ता

मेरठ शहर में दिन दहाड़े भी कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा छोटी छोटी घटनाओं को अंजाम दिया गया है। कोई महिला रिक्शा में आ रही थी। उसकी चैन झपट ली। कुंडल छीन लिए। अन्य घटनाओं को अंजाम दिया जाता है। जब दिन दहाड़े ऐसी घटनाए हो जाती है। तो क्या रात में नहीं हो सकती है। आइए हम दिखाते हैं। लापरवाही का खेल:- मेरठ का जाना माना सिटी रेलवे स्टेशन जहा से लाखो लोग सुबह अपने काम पर जाते हैं। और इसी स्टेशन से शाम को अपने घर जाते है। यह सड़क सिटी रेलवे स्टेशन से शुरू हो कर घंटा घर चौराहे पर जाती है। इस रोड पर दो पुलिस चौकी बनी है। दोनो ही चौकी उजाले में बनी है। उसके बाद आधे रास्ते पर कोई चौकी नही है। और ना ही उजाले के नाम पर कुछ है। सड़क पर स्ट्रीट लाइट तो लगा दी। पर कभी इनको उजाला करते हुए नही देखा। सरकार की तरफ से पूर्ण रूप से सुविधा दी जा रही है। परंतु विभाग क्या कर रहा है। इस आधे रास्ते पर दोनो तरफ झाड़ियां खड़ी है बहुत बड़ी बड़ी। और भरपूर अंधेरा छाया हुआ है। यदि कोई व्यक्ति इस रास्ते पर पैदल चल रहा हो तो। कोई भी इन झाड़ियों में से निकल कर उसपर हमला कर सकता है। और उसके साथ लूटपाट कर सकता है। इससे विभाग को कोई मतलब नहीं है। कुछ भी होता रहे। जिसको परेशानी होती है होती रहे। विभाग के लोग तो अपने घर में बैठे हैं।