मेरठ न्यूज़: वाहनों का धीरे धीरे दवाब बनना हुआ शुरू
Breaking News उतरप्रदेश मेरठ

मेरठ न्यूज़: वाहनों का धीरे धीरे दवाब बनना हुआ शुरू

संवाददाता: मनीष गुप्ता

मेरठ जिले में अनलॉक होने के बाद भी जनता ने सरकार द्वारा बनाए गए नियमों की धज्जियां उड़ाई हुई है। लोगों के दिलों में कोरोना संक्रमण का भय तो खत्म ही हो गया है। पुलिस द्वारा सख्त हिदायत देने के बावजूद भी लोग झुंड बनाकर सड़कों पर चल रहे हैं सड़कों पर वाहनों की आवाजाही की रफ्तार तेज हो गई हैं। सब्जीयों के ठेलों पर, शराब की दुकानों पर यहां तक कि सड़कों पर भी चलते समय शारीरिक दूरी का पालन नहीं किया जा रहा है। वाहनों पर चलने वाले वाहन चालक एक दूसरे में भिडने को तैयार है।जिससे संक्रमण फैलने का खतरा और बढ़ ही रहा है। कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए, जिले में सप्ताहिक लाकडाउन लगाया गया है। लेकिन इस लाकडाउन के बाद भी लोग घरों में ठहरने को तैयार ही नहीं हैं। सरकर ने सोमवार से शुक्रवार तक दुकानों को, बजार, को खोलने की इजाजत दी है। साथ-साथ शराब की दुकानें भी खोलने के निर्देश दे रखे हैं। हालांकि छूट संबंधी सभी निर्देश जिले के डीएम जी की रजामंदी के बाद ही लागू किए जाने की बाध्यता है। फिलहाल आवश्यक वस्तुओं की दुकानों और शराब के ठेकों को ही खोलने की इजाजत दी है। आज भी मेरठ शहर की सड़कों पर बहुत ज्यादा चहल-पहल दिखाई दी। दोपहर में भी पुलिस ने सख्ती बढ़ाई और बाइक सवारों के चालान भी काटे।

 

मेरठ न्यूज़: वाहनों का धीरे धीरे दवाब बनना हुआ शुरूलोग शारीरिक दूरी का उल्लंघन करते नजर आए। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर व्यवस्थाओं को बनाए रखा पुलिसकर्मियों ने मास्क न लगाने वाले लोगों को फटकार लगाई और बिना मासक के निकलने वालो को सख्त हिदायत भी दी। और बिना किसी कार्य के घर से बाहर निकलने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाने की चेतावनी दी तभी जनता अपनी हरकतों से बाज आयेगी। ऐसे तो लोगों ने इस महामारी को बहुत ही मजाक में ले रखा है। प्रशासन के बार बार कहने पर भी जनता इस बात पर ध्यान नहीं दे रही है। की कोविड 19 के नियमो का पालन करना चाहिए। ताकि खुद को भी और दूसरो को भी परेशानी नहीं होनी चाहिए।

Facebook Notice for EU! You need to login to view and post FB Comments!