Breaking News बिहार: बेतिया

Bihar news स्टार्टअप जोन चनपटिया में निरंतर बढ़ रही है लेटेस्ट मशीनों की तादाद

संवाददाता मोहन सिंह बेतिया

जिला प्रशासन द्वारा कोरोना काल में जिले में वापस लौटे बहुत सारे लोगों को श्रमिक/कामगार से ऑनर बना दिया गया है। जिला प्रशासन की मदद से स्टार्टअप जोन चनपटिया में व्यवस्थित तरीके से विभिन्न प्रकार के उद्यम संचालित किये जा रहे हैं, जहां सैकडों व्यक्ति रोजगार प्राप्त कर जीविकोपार्जन कर रहे हैं। स्टार्टअप जोन अंतर्गत विभिन्न उद्योगों का संचालन करने वाले उद्यमियों को कई तरह की सुविधाएं प्रदान की जा रही है। अबतक 41 उद्यमियों द्वारा सफलतापूर्वक विभिन्न उद्यमों का संचालन किया जा रहा है। देश-विदेशों में जिले के निर्मित प्रोडक्ट्स की निरंतर मांग भी बढ़ रही है।

 

 

साथ उद्यमियों की बढ़ती जा रही संख्या तथा उनके सहूलियत को देखते हुए जिले के अन्य क्षेत्रों में भी स्टार्टअप जोन बनाने के लिए तीव्र गति से कार्य किया जा रहा है। अन्य क्षेत्रों में स्टार्टअप जोन का निर्माण हो जाने के उपरांत स्थानीय लोगों को जहां रोजगार उपलब्ध हो सकेगा वहीं जिले की आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ होगी। जिला प्रशासन द्वारा स्टार्टअप जोन में उद्यम संचालित करने हेतु लोगों को विभिन्न प्रकार की सुविधाएं प्रदान की गयी है। जिसके आलोक में बहुत सारे लोग यहां अपना उद्यम संचालित करने के इच्छुक है तथा कई उद्यमी डिमांड बढ़ने के कारण अपने उद्योग को विस्तारित कर रहे हैं।

 

इसी क्रम में स्टार्टअप जोन चनपटिया में अपने उद्योग को विस्तारित करने वाले आमिल हुसैन विदेश से आयातीत लेटेस्ट 17400-इम्ब्रॉडरी मशीन चनपटिया स्टार्टअप जोन में अधिष्ठापित कर रहे हैं। लेटेस्ट 17400-इम्ब्रॉडरी मशीन कम समय में अधिक प्रोडक्शन करेगा।

 

वरीय उप समाहर्ता, रवि प्रकाश द्वारा बताया गया है कि इम्ब्रॉडरी मशीन के ऑनर श्री आमिल हुसैन मूल रूप से चनपटिया प्रखंड अंतर्गत करनैनिया ग्राम के रहने वाले हैं, जो पिछले 15 सालों से इस प्रोफेशन में बतौर कामगार के रूप में दुबई में कार्य कर रहे थे। कोरोना संक्रमण से उत्पन्न वैश्विक महामारी के दौरान लॉकडाउन के कारण ये दुबई से अपने जिले पश्चिम चम्पारण में आए। जिला प्रशासन द्वारा उद्यम शुरू करने हेतु दी जा रही विभिन्न सुविधाओं के मद्देनजर श्री हुसैन द्वारा संपर्क किया गया तथा जिला प्रशासन द्वारा उन्हें चनपटिया स्टार्टअप जोन में इम्ब्रॉडरी मशीनें अधिष्ठापित करने हेतु सहमति प्रदान की गयी। श्री हुसैन द्वारा सूरत से सेकेन्ड हैंड इम्ब्रॉडरी मशीन मंगाकर अपना उद्यम संचालित किया जा रहा है। देश के विभिन्न हिस्सों में इनके प्रोडक्शन की डिमांड इतनी है कि ये पूरा नहीं कर पा रहे थे। कम समय में डिमांड को पूरा करने के लिए लेटेस्ट इम्ब्रॉडरी मशीन की आवश्यकता इन्हें थी। जिला प्रशासन द्वारा इन्हें आर्थिक सहायता उपलब्ध कराया गया ताकि ये इम्ब्रॉडरी की लेटेस्ट मशीन विदेश से मंगा सके।उन्होंने बताया कि लेटेस्ट 17400 इम्ब्रॉडरी मशीन विदेश से हजीरा बंदरगाह, गुजरात पर उतार लिया गया है तथा सूरत के रास्ते चनपटिया स्टार्टअप जोन में शीघ्र पहुंच जायेगा। उन्होंने बताया कि 17400-इम्ब्रॉडरी मशीन में 17 हेड लगे हुए है। एक हेड से दूसरे हेड की दूरी 400 एमएम है। यह मशीन कम समय में ज्यादा साड़ी, सूट, स्टॉल, लहंगा, दुपट्टा, प्लाजो आदि का निर्माण करेगा।उन्होंने बताया कि आमिल हुसैन अपना उत्पाद दिल्ली, सूरत, पूर्णिया, मोतिहारी आदि जगहों पर बिक्री करते हैं। सूरत के एक बड़े कपड़ा व्यवसायी द्वारा श्री आमिल हुसैन को यह ऑर्डर दिया गया है कि तीन महीना में जितना भी प्रोडक्शन होगा, वह खरीद लेंगे। इसी तरह देश के अन्य हिस्सों में भी इनके प्रोडक्शन की डिमांड बहुत ज्यादा है।

 

Bihar news स्टार्टअप जोन चनपटिया में निरंतर बढ़ रही है लेटेस्ट मशीनों की तादादजिलाधिकारी, कुंदन कुमार द्वारा प्रसन्नता जाहिर करते हुए अधिकारियों एवं उद्यमियों का उत्साहवर्धन किया गया है। उन्होंने कहा है कि पश्चिम चम्पारण जिले को प्रोडक्शन हब बनाने की दिशा में तेजी से कार्य हो रहा है, जो अत्यंत ही सराहनीय है। प्रोडक्शन हब बनाकर पश्चिम चम्पारण जिले का नाम देश-विदेश में रौशन करें। पश्चिम चम्पारण ब्रांड का परचम देश-विदेश में लहरायें इस हेतु हरसंभव प्रयास करें। अपने सपने को उंचा रखते हुए संजीदगी के साथ आगे बढ़ते रहें। सफलता आपके कदम जरूरी चूमेगी।