Bihar news डीएम ने किया सिकटी प्रखंड के बाढ़ पीड़ित इलाकों का निरीक्षण बाढ़ से गरीब लोगों ने डीएम से बाढ़ से निदान वह मुआवजे की मांग की
Breaking News बिहार

Bihar news डीएम ने किया सिकटी प्रखंड के बाढ़ पीड़ित इलाकों का निरीक्षण बाढ़ से गरीब लोगों ने डीएम से बाढ़ से निदान वह मुआवजे की मांग की

अररिया मंटू राय संवाददाता

अररिया जिलाधिकारी श्री प्रशांत कुमार सीएच शनिवार को और वरीय अधिकारियो एंव तकनीकी विभाग के अधिकारियो के साथ सिकटी प्रखंड क्षेत्र के कई कटाव व बाढ़ प्रभावित क्षेत्र निरीक्षण किया उन्होंने सिकटी प्रखंड अंतर्गत पररिया व दहगामा सालगोढ़ी कठवा कंचना अंसारी टोला इस्साक मुखिया टोला राजवंशी टोला सहित नुना नदी के किनारे बसे कई गांव व क्षेत्र का नाव में बैठकर निरीक्षण किया निरीक्षण के क्रम में कार्यपालक अभियंता बाढ़ नियंत्रण व जल निस्सरण से फ्लड फाइटिंग के कार्यो के संबंध में जानकारी ली एवं उन्होंने कई आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये जिलाधिकारी ने सबसे पहले सालगोढ़ी चौक पहुंच नाना नदी द्वारा अख्तियार की गई नई धारा का अवलोकन किया उन्होंने देखे कि नदी अपनी पुरानी धारा को छोड़ नई दिशा और नई धारा के कारण गांव में तबाही मचा रही है रास्ता अवरुद्ध होने के कारण वे वहां से पैदल निकलकर कीचड़ पानी होते हुए क्षेत्र का निरीक्षण किया।

Bihar news डीएम ने किया सिकटी प्रखंड के बाढ़ पीड़ित इलाकों का निरीक्षण बाढ़ से गरीब लोगों ने डीएम से बाढ़ से निदान वह मुआवजे की मांग की

डीएम ने कहा की नेपाल के अधिग्रहण क्षेत्र से छोड़े जा रहे पानी तथा लगातार हो रही बारिश से पूर्वी क्षेत्र के लोग काफी प्रभावित है उन्होंने कहा कि जलजमाव वाले निचले स्थानों पर रहने वाले सुरक्षित स्थलों पर शीघ्र जाने की जरूरत है लोगों को घरों से अनावश्यक रूप से बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी सालगोढ़ी से कंचना जाने वाली सड़क के माध्यम से इसाकमुखिया टोला बाइक पर बैठकर गए वहां पर उन्होंने बाढ़ से हुई क्षति का जायजा लिया वहां पर दर्जनों की संख्या में मौजूद लोगों ने डीएम से निदान को लेकर फरियाद किया ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से कहा कि भले ही रिलीफ ना मिले लेकिन नदी की धारा पहले जैसी में बनी रहे इसके लिए बांध की जरूरत है ताकि नदी का पानी गांव में ना घुस सके डीऐम प्रशांत कुमार सीएच ने लोगो की बातों को ध्यान में रखते हुए तथा लोगों की सुविधा को लेकर तत्काल आवागमन हेतु व्यवस्था की जाएगी वही बरसात के बाद इसका स्थाई समाधान निकाला जा सकेगा उन्होंने ग्रामीणों को बाढ़ से हुए क्षती का उचित मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया