Bihar news : कर्ज के बोझ से दबे किसान ने की आत्महत्या
Breaking News अन्य राज्य बिहार

Bihar news : कर्ज के बोझ से दबे किसान ने की आत्महत्या

संवाददाता :  मोहन सिंह बेतिया   भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) की पश्चिम चंपारण जिला कमेटी के सचिव प्रभुराज नारायण राव ने नरकटियागंज के पुरानी बाजार मोहल्ले के एक किसान अवधेश कुशवाहा द्वारा आत्महत्या करने की कार्रवाई पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए पश्चिम चंपारण जिला प्रशासन से अविलंब हस्तक्षेप करने की मांग की है ।
उन्होंने किसान अवधेश कुशवाहा द्वारा आत्महत्या करना पश्चिम चंपारण की यह वाली घटना है । मृतक किसान ने अपने एक लिखित नोट में घटना की विस्तार से विवरण करते हुए लिखा है की खेती के लिए ₹10000 एक महाजन से लिया था । जिसके एवज में ₹20000 महाजन को लौटा देने के बाद भी 30,000 की मांग लगातार कर रहे हैं । मेरे घर पर आकर गाली गलौज करते हैं और आज कोरोना संक्रमण , बेतहाशा महंगाई , यास तूफान , भीषण बाढ़ ने हमारा कमर तोड़ दिया है । ऐसी स्थिति में कर्ज चुकाना संभव नहीं है । इसलिए विवश होकर आत्महत्या करने का निर्णय लिया है । मृतक किसान ने अपने बच्चों की परवरिश के लिए स्थानीय सांसद , राज्यसभा सदस्य सतीश चंद्र दुबे , स्थानीय विधायक रश्मि वर्मा आदि से सहयोग की अपील है ।
देश के अंदर बड़े पैमाने पर कर्ज के बोझ से दबे हुए किसान रोज आत्महत्या कर रहे हैं ।

 

Bihar news : कर्ज के बोझ से दबे किसान ने की आत्महत्या

मृतक फ़ाइल फोटो 

संयुक्त किसान मोर्चा के द्वारा बॉर्डर पर बैठे हुए किसान लगातार कृषि कर्ज की माफी की भी मांग कर रहे हैं । पिछले लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी ने भी कृषि कर्ज माफी की बात कही थी । लेकिन केंद्र या राज्य सरकार इस पर कहीं भी ध्यान नहीं दे रही है ।बिहार में किसानों द्वारा आत्महत्या करने का सिलसिला भी शुरू हो गया है । इसलिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी इस सवाल पर चिंता करना चाहिए । उन्होंने इस पूरी घटना क्रम की उच्च स्तरीय जांच करा कर हत्या का आरोपी सूद खोर तथा प्रशासन पर सख्त करवाई करने की मांग की है । साथ हीं पश्चिम चंपारण के सभी किसानों का कृषि कर्ज अविलंब माफ करने की मांग की है।