Agra News: चंबल नदी उफान पर बाढ का खतरा बढ़ा, तटवर्ती इलाकों में अलर्ट
Breaking News आगरा उतरप्रदेश

Agra News: चंबल नदी उफान पर बाढ का खतरा बढ़ा, तटवर्ती इलाकों में अलर्ट

संवाद जनवाद टाइम्स न्यूज़

पिनाहट: मध्यप्रदेश और राजस्थान में लगातार हो रही बारिश के चलते चंबल नदी उफान पर है।इसका जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। बीते 24 घण्टे में नदी का जलस्तर 36 फीट बढकर 112 मीटर से 121 मीटर से अधिक हो गया है। प्रतिघण्टे डेढ फीट की दर से बढ रही चंबल में बाढ का खतरा पैदा होने से बाह रेंज के 38 गांवों में हडकंप मच गया है।

Agra News: चंबल नदी उफान पर बाढ का खतरा बढ़ा, तटवर्ती इलाकों में अलर्ट

 

प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर लोगों को नदी किनारे के इलाकों में न जाने की हिदायत जारी की है। लेखपालों को गांवों में ही रुकने और बढ़ते जलस्तर पर नजर रखने के निर्देश दिए गए है।बारिश के चलते सोमवार को चंबल नदी का जलस्तर 112 मीटर हो गया था। मंगलवार की रात से नदी उफान पर है। बुधवार की शाम को चंबल नदी का जलस्तर 121 मीटर से भी अधिक होने से प्रशासन में हडकंप मच गया। एसडीएम बाह अब्दुल बासित पिनाहट,उमरैठा पुरा, बीच का पुरा पहुंचे वहीं तहसीलदार बाह राजू कुमार ने गोहरा पहुंच कर निरीक्षण किया।

लोगों को नदी किनारे न जाने और ऊंचाई वाले इलाकों में रहने के निर्देश दिए। पिनाहट में स्टीमर और विभिन्न घाटों पर नाव के संचालन पर रोक लगा दी है। खतरे के निशान 130 मीटर से 9 मीटर नीचे रह गयी चंबल नदी किनारे के डगौरा, रेहा, बरेण्डा, बीच का पुरा, क्योरी, उमरैठापुरा, डालपुरा, शिवलालपुरा, झरनापुरा, गोहरा, रानीपुरा, भटपुरा, गुढा, भगवानपुरा, मऊ की मढैयां आदि गांवों में हडकम्प की स्थिति है। नदी के बढ रहे जलस्तर ने तटवर्तीय गांवों के निवासियों की रात की नींद उडा दी है।