Breaking News उतरप्रदेश

Corona News: ऑक्सीजन आपदा को दूर करने को टाटा और रिलायंस ग्रुप ने शुरू किया उत्पादन

संवाददाता मनोज कुमार राजौरिया
कोरोना महामारी के चलते देशभर में ऑक्सीजन की मांग काफी बढ़ गई है। कई शहरों में अस्पताल आक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं। केंद्र और राज्य सरकारें ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। जरूरत को ध्यान में रखते हुए टाटा समूह ने ऑक्सीजन की आसान और जल्द ट्रांसपोर्ट करने के लिए 24 क्रायोजेनिक कन्टेनर का आयात करने का ऐलान किया है।

क्रायोजेनिक कन्टेनर से मिलेगी मदद
क्रायोजेनिक कन्टेनर के जरिए लिक्विड ऑक्सिजन को ज्यादा मात्रा में एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाना आसान हो जाएगा, वहीं ऑक्सीजन के स्टोरेज में भी मदद मिलेगी।

टाटा समूह की ओर से ट्वीट 
टाटा समूह की ओर से ट्वीट करके कहा गया है कि प्रधानमंत्री मोदी जी की ओर से देश के लोगों से की गई अपील काफी प्रशंसनीय है। टाटा समूह के तौर पर हम कोविड 19 के खिलाफ देख में चल रही इस लड़ाई को और मजबूत करने के लिए हम छोटा सा प्रयास कर रहे है। देश भर में हो रही ऑक्सिजन आपदा को दूर करने के लिए टाटा समूह 24 क्रायोजेनिक कन्टेनर का आयात करेगा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज भी कर रही उत्पादन
देश में कोविड संक्रमण के तेजी से बढ़ रहे मामलों के बीच जाने-माने उद्योगपति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड अपनी जामनगर रिफाइनरी में प्रतिदिन 700 टन से अधिक चिकित्सा स्तर के ऑक्सीजन का उत्पादन कर रही है। यह ऑक्सीजन कोविड-19 से बुरी तरह प्रभावित राज्यों को मुफ्त में दी जा रही है। सूत्रों ने यह जानकारी दी। कंपनी की जामनगर रिफाइनरी ने शुरुआत में 100 टन चिकित्सा स्तर का ऑक्सीजन का उत्पादन किया था, जिसे बाद में बढ़ाकर 700 टन कर दिया गया।