Bihar News: Another patient died due to negligence in treatment at Government Medical College Hospital
Breaking News बिहार

Bihar News: गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इलाज में लापरवाही के कारण एक और मरीज की हुई मौत

मोहन सिंह

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल बेतिया में इलाज में कथित लापरवाही के कारण शुक्रवार को एक और मरीज की हुई मौत से आक्रोशित परिजनों ने काटा जमकर बवाल इस बीच करीब 2 घंटे तक अस्पताल परिसर बना रहा रण क्षेत्र पुलिस एवं उच्च अधिकारियों के पहुंचने पर स्थिति पर काबू पाया जा सका गोरमेंट मेडिकल कॉलेज आए दिन हंगामा होना तो एक नियति सी बन गई है यहां रोगी मरने के लिए ही आते हैं यह बात लोगों की धारणा बन गई है स्थानीय बसवरिया धूनिया पट्टी निवासी दिलजान मियां 45 वर्ष को पेट में दर्द होने के कारण गुरुवार की रात्रि अस्पताल में भर्ती कराया गया था जिसकी मौत हो गई परिजनों का आरोप था कि इलाज में लापरवाही किए जाने तथा देखरेख के अभाव में दिलजान मियां की मौत हो गई मरीज की मौत पर भड़के परिजनों ने जमकर बवाल मचाया और गाली गलौज की विस्फोटक स्थिति को देखते हुए अस्पताल कर्मी और डॉक्टर भाग खड़े हुए लेकिन नगर पुलिस एवं कुछ प्रशासनिक पदाधिकारियों के पहुंचकर काफी समझाने बुझाने के बाद स्थिति पर नियंत्रण पाया जा सका कहने को तो मेडिकल कॉलेज में करीब 120 डॉ हैं रात या दिन में इमरजेंसी वार्ड में 5 डॉक्टरों की ड्यूटी रहती है लेकिन दिन में मुसल से एक या दो डॉ मिल भी जाते हैं तो रात में डॉक्टर को कॉल करें ड्यूटी में तैनात स्वास्थ्य कर्मी भी खोजने से नहीं मिलते अभी हाल ही में क्या बात सामने आई है की रात्रि में इमरजेंसी ड्यूटी में तैनात डॉक्टर के बदले उनका कंपाउंडर इलाज कर रहा था जांच उपरांत उक्त डॉक्टर को निलंबित कर दिया गया है गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज बेतिया प्रिंसिपल के कंट्रोल से बाहर बताया जाता है बताते चलें कि गोरमेंट मेडिकल कॉलेज बेतिया के प्रचार में गुरुवार को एक तुगलकी फरमान जारी कर अस्पताल मैं मीडिया कर्मियों को जाने पर रोक लगा दिया है ऐसा उन्होंने मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल मैं व्याप्त भ्रष्टाचार तथा मनमानी को छुपाने के लिए ऐसा फरमान जारी किया है जो उनके अधिकार क्षेत्र से बाहर की बात है पश्चिम चंपारण प्रेस क्लब के अध्यक्ष मोहन सिंह महासचिव सत्यनारायण शर्मा जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष मृत्युंजय दुबे के अलावे तमाम पत्रकारों ने इस तुगलकी फरमान की घोर निंदा करते हुए गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल बेतिया की व्यवस्था को सुधारने की मांग किया है