एसेम्बली बम कांड दिवस पर एआइएसएफ वैशाली ने सरकार के गलत नीतियों के खिलाफ खोला मोर्चा
Breaking News बिहार

एसेम्बली बम कांड दिवस पर एआइएसएफ वैशाली ने सरकार के गलत नीतियों के खिलाफ खोला मोर्चा

नवीन कुमार संवाददाता हाजीपुर वैशालीी:   महुआऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन के राज्य व्यापी कार्यक्रम के तहत एआइएसएफ वैशाली के द्वारा गांधी स्मारक चौक पर एसेम्बली बम कांड दिवस के अवसर पर विभिन्न मांगो को लेकर परदर्शन किया गया। इस मौके पर सभा आयोजित की जिसकी अध्यक्षता करते हुए एआइएसएफ वैशाली के जिला अध्यक्ष प्रकाश कुमार ने कहा डबल ईंजन की नीतीश मोदी सरकार ने छात्रों को गरीबों को परेशान करने के लिए जानबूझकर करोना के नाम पर सार्वजनिक संस्थान को बंद करने की साजिश रच रही है।

देश के पांच राज्य में चुनाव हो रहा है जहां लाखों की भीड़ इकट्ठा हो रही है वहां करोना नहीं है और जहां चुनाव नहीं हो रहा है वहां करोना है ये देश को पुनः गुलाम बनाने की सरकार की सोची समझी साजिश है जिसे एआइएसएफ वर्दाश्त नहीं करेगा देश के सोए हुए लोगों को जगाने के लिए शहीदे आजम भगत सिंह ने 08 अप्रैल 1929 को एसेम्बली में बम फेका था वर्तमान समय में एआइएसएफ छात्रों नौजवानों को जागरूक करते हुए नीतीश मोदी को सत्ता से उखाड़ फेंकने का काम करेगा।

एसेम्बली बम कांड दिवस पर एआइएसएफ वैशाली ने सरकार के गलत नीतियों के खिलाफ खोला मोर्चा

सभा को संबोधित करते हुए छात्र नेता सफदर इरशाद और उत्कर्ष कुमार ने कहा विगत विधानसभा चुनाव में भाजपा नीतीश कुमार ने 19 लाख नौकरी देने का वादा किया था जिसे लागू करने के लिए अभी तक पहल नहीं की जा रही है हम सरकार से मांग करते हैं आपने जो वादा किया है उसे पुरा करें एवं नई शिक्षा नीति बापस लेते हुए समान शिक्षा प्रणाली लागू करें अन्यथा एआइएसएफ आंदोलन करने के लिए बाध्य होगा।
सभा से पूर्व छात्रों ने आक्रोश मार्च निकाला जो जवाहर चौक से महुआ के विभिन्न चौक होते हुए , चुनाव जरूरी या पढ़ाई सरकार जवाब दो नारे के साथ गांधी स्मारक चौक पहुंचा

इस मौके पर राहुल कुमार,गौरव कुमार,सोहन शर्मा ,चंदन कुमार,प्रिंस कुमार,अनीश कुमार,कौशल कुमार सहित दर्जनों छात्र उपस्थित थें।