मेरठ न्यूज़: रोटी की ताक में सडकों पर इंतजार करते हुये। कया है यह गरीबी ?
Breaking News उतरप्रदेश मेरठ

मेरठ न्यूज़: रोटी की ताक में सडकों पर इंतजार करते हुये। कया है यह गरीबी ?

संवाददाता : रेनू

मेरठ जिले में अभी भी कितने ही लोग गरीबी रेखा से नीचे अपना जीवन बिता रहे रहे हैं। यह वो लोग हैं जिनको रहने के लिए छत तो है ही नही साथ ही दो वक्त की रोटी भी नसीब नही हो पाती है। ऐसे लोग रोजाना अपना पेट भरने के लिए दर – दर की ठोकरें खाकर अपना गुजर बसर करते हैं। यह अपना पेट भरने के लिए सडकों पर इंतजार कर रहे है।

मेरठ न्यूज़: रोटी की ताक में सडकों पर इंतजार करते हुये। कया है यह गरीबी ?

कि कोई तो इनको कुछ पैसे या खाने की मदद कर सके। इन परिवारों में लोग पढ़े लिखे भी नहीं हैं, जिस वजह से इन्हें किसी भी तरह का रोजगार नहीं मिल पाता। ऐसे में ये दिहाड़ी, मजदूरी कर अपनी जिंदगी बसर करते हैं। नही तो पेट भरने के लिए यह लोग भीख तक मागतें है। सरकारें भी ऐसे लोगों को मदद करने के लिए सस्ती आटा दाल स्कीम चलाकर उन्हे तीन वक्त की रोटी देने का प्रयास कर रही है।, बहुत लोग है मेरठ शहर में भी जो इन लौगों की मदद के लिए अपना हाथ बढ़ा चुके है। और इन गरीब बच्चों को शिक्षा के लिए मदद की जाएगी। तांकि हम हमारे भारत देश को गरीब मुक्त कर सके।