Breaking News उतरप्रदेश करियर & जॉब

UP Board 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं कल से शुरू, 56 लाख से ज्यादा छात्रों की धड़कन बढ़ी

संवाददाता मनोज राजौरिया: UP Board exams 2020: यूपी बोर्ड की हाईस्कूल (10th) और इंटरमीडिएट (12th) की परीक्षाएं मंगलवार से राज्यभर में शुरू होंगी। इस साल की वार्षिक परीक्षा में 10वीं और 12वीं में कुल 56 लाख से ज्यादा छात्र-छात्राएं भाग लेंगे। परीक्षा नजदीक आते देख तमाम छात्रों की धड़कनें बढ़ चुकी हैं।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की वार्षिक परीक्षा 2020 में इंटरमीडिएट के 25 लाख 86 हजार छात्र भाग लेंगे तो वहीं हाईस्कूल के 30 लाख 25 हजार के करीब छात्र भाग लेंगे। हाईस्कूल की परीक्षाएं 12 दिनों के भीतर 3 मार्च को समाप्त हो जाएंगी जबकि इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 15 दिन में यानी 6 मार्च को समाप्त हो जाएंगी। 2019 में हाईस्कूल की परीक्षाएं 14 दिन (वर्किंग डेज) चली थीं और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 16 दिन में समाप्त हुईं थीं।

हाईस्कूल की परीक्षाओं में जहां लड़कों की संख्या 16 लाख 60 हजार है तो वहीं लड़कियों की संख्या 13 लाख 90 हजार है। इसी प्रकार 12वीं में 14 लाख 63 लड़के और 11 लाख 21 हजार लड़के लड़कियां इस साल परीक्षा में भाग लेंगी।

यूपी बोर्ड ने इस साल परीक्षाओं से जुड़ी कई चीजें पहली बार शुरू की हैं, जैसे कि-
रंगीन और सिली हुई उत्तर पुस्तिका-
इस बार यूपी बोर्ड ने कई नए पहल करते हुए रंगीन और सिली हुई उत्तर पुस्तिकाएं शुरू की हैं। इसके तहत अलग-अलग कलर के चार सेट होंगे। यह सेट राज्य के उन 18 जिलों में बांटी जाएंगी जहां नकल या परीक्षाओं में गड़बड़ी होने की ज्यादा आशंका रहती है।
राज्य के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने बताया कि दो कलर के सेट हाईस्कूल परीक्षा के लिए इस्तेमाल किए जाएंगे जबकि दो अन्य कलर सेट इंटरमीडिएट की परीक्षा के लिए इस्तेमाल किए जाएंगे। जिससे कि संवेदनशील जिलों में कॉपी बदलने की घटनओं पर लगाम लगाया जा सके।

इंटरमीडिएट में कम्पार्टमेंट सिस्टम लागू-
उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने पत्रकारों को बताया कि इस साल से 12वीं की परीक्षाओं में कम्पार्टमेंट सिस्टम भी परीक्षार्थियों के लिए लागू किया गया है। इससे पहले बोर्ड यह व्यवस्था सिर्फ हाईस्कूल के छात्रों के लिए थी। अब कम्पार्टमेंट परीक्षा का लाभ 12वीं के छात्र भी ले पाएंगे। इंटर की परीक्षा में शामिल होने जा रहे करीब 25 लाख छात्र कम्पार्टमेंट परीक्षा का लाभ ले सकेंगे।
UP Board परीक्षा में कॉपी के हर पन्ने पर परीक्षार्थियों को लिखना होगा रोल नंबर, ध्यान रखें ये जरूरी बातें

NCERT परीक्षा पैटर्न भी-
पिछले साल से यूपी बोर्ड में एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम और परीक्षा पैटर्न लागू किया गया है। इसके तहत दो पेपर सिस्टम शुरू किया गया है जिसे तहत छात्रों को हर विषय के केवल एक पेपर की परीक्षा देनी होगी। इस पेपर में यदि छात्र अच्छा प्रदर्शन नहीं करता तो उसे परीक्षा में पास नहीं किया जाएगा।

टेंशन दूर करने को टोल फ्री नंबर-
छात्रों में परीक्षाओं को लेकर होने वाले तनाव को दूर करने के लिए यूपी बोर्ड ने टोल फ्री नंबर 1800-180-5310 और 1800-180-5312 जारी किया है। यह नंबर सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक काम करेंगे।

1.90 लाख सीसीटीवी कैमर से निगरानी-
यूपी बोर्ड ने लखनऊ में एक हाईटेक कंट्रोल रूम बनाया है जिससे परीक्षाओं की निगरानी की जाएगी। राज्यभर के 75 जिलों में 7784 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं जिनमें करीब 1.90 लाख कैमरे लगाए गए हैं। यहां सभी कैमरों से परीक्षा केंद्रों की लाइव वेबकास्टिंग होगी जिसे लखनऊ में बैठे कर्मचारी मॉनिटर करेंगे।

क्या करें, क्या न करें ?
◆-यूपी बोर्ड ने निर्देशों के अनुसार, परीक्षार्थी को उत्तरपुस्तिका के हर पेज पर अपना रोल नंबर लिखना होगा।
◆- रोल नंबर के अलावा पेज पर कुछ भी धार्मिक चिन्ह जैसे ओम, 786 आदि नहीं लिखना है।
◆- उत्तर पुस्तिका पर रुपए (नोट) आदि न रखें अन्यथा आपके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।