Breaking News इटावा उतरप्रदेश

अपन तो पूछेंगे ! सिस्टम क्या होता है, मैं बताऊँ सिस्टम के आकाओं ???? और रही बात सवाल उठाने की तो अपन तो पूछेंगे ही! “सुख के दिन आयें तो लड़ लेना,दुःख तो साथ रोने से ही कटता है।- मुंशी प्रेमचंद

जनवाद संवाददाता महामारी के दौर में सहयोग करने की अपेक्षा के क्रम में पर्दे के पीछे आखिर हुआ क्या,आइए आपको हम बताते हैं, क़रीब दस हज़ार आई. ए. एस. ऐसपिरेंट्स ने ग्रुप बनाकर ऑक्सीजन सिलेंडर, रिफ़िलिंग, ब्लड , प्लाज्मा, दवाओं और बेड्स की पूरे भारत में अवेलिबिलिटी की डिटेल्ज़ निकाली,अभिनेता सोनू सूद जैसे तमामो-तमाम लोगों […]