Breaking News उतरप्रदेश त्वरित टिप्पड़ी प्रतापगढ़

नवजात शिशु की मौत के बाद स्टाफ नर्स ने वसूले बारह सौ रुपए

प्रतापगढ़ समाचार । कंधई थाना क्षेत्र के सरखेल पुर गांव निवासी उषा देवी 26 वर्ष पत्नी राम अवतार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेलखरनाथ प्रसव कराने आई थी।गरीब महिला के नवजात शिशु की मौत के बाद ड्यूटी पर तैनात स्टाफ नर्स ने नवजात की मौत के बाद तीमारदारों से 12 सो रुपए वसूल लिया प्रसव पीड़िता के परिजनों के गिड़गिड़ाने के बाद भी स्टाफ नर्स को जरा भी रहम नहीं आया जबकि प्रसव पीड़िता बेहद गरीब थी अपनी बहन के साथ गुरुवार को वह लेबर पेन होने पर एंबुलेंस से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेलखरनाथ प्रसव कराने के लिए आई थी दिन में प्रसव नहीं हो पाया रात में प्रसव के बाद नवजात शिशु की स्टाफ नर्स की लापरवाही के चलते उसकी मौत हो गई नवजात शिशु की मौत के बाद स्टाफ नर्स ने तीमारदारों से कहा कि तुम्हारा बच्चा मरे या जिए उससे हमें कोई मतलब नहीं है यह अक्सर होता रहता है हमें सिर्फ ₹1000 चाहिए शुक्रवार की सुबह प्रसव पीड़िता के तीमारदार बाहर निकल कर लोगों से मदद की गुहार लगाई ।

ग्रामीणों ने नवजात शिशु के दाह संस्कार के लिए कफन के पैसे और वाहन का व्यवस्था करते हुए उसे बेलखरनाथ धाम सई नदी के किनारे दाह संस्कार के लिए भिजवाया लेकिन स्टाफ नर्स की मानवता और इंसानियत उस दौरान मर गई जब वह तीमारदारों से 12 सो रुपए की मांग कर दी इस मामले को लेकर परिजनों ने सीएससी अधीक्षक से शिकायत की लेकिन स्टाफ नर्स के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई इस मामले को लेकर परिजनों ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रतापगढ़ से फोन पर शिकायत की जिसमें मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि लिखित तहरीर मिलने पर स्टाफ नर्स के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करते हुए निलंबित कर दिया जाएगा।