Breaking News उतरप्रदेश त्वरित टिप्पड़ी प्रयागराज

FUPUCTA : उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय महाविद्यालय शिक्षक संघ का उच्च शिक्षा निदेशालय प्रयागराज उत्तर प्रदेश में एक दिवसीय धरना

प्रयागराज उत्तर प्रदेश समाचार : आज उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय महाविद्यालय शिक्षक संघ फुपुक्टा के बैनर तले उच्च शिक्षा निदेशालय प्रयागराज में एक दिवसीय धरने का आयोजन किया गया। इस धरने में

फुपुक्टा के अध्यक्ष डॉ वीरेंद्र सिंह चौहान महामंत्री डॉ वाईएन त्रिपाठी ने अपनी सहभागिता सुनिश्चित की। इस धरने में प्रदेश के सभी महाविद्यालयों की शिक्षक संघ की इकाइयों ने अपनी भागीदारी सुनिश्चित कराई।

संघ ने उच्च शिक्षा में महाविद्यालयों के शिक्षकों के प्रमुख बिंदुओं को उठाया। फुपुक्टा अध्यक्ष डॉ वीरेंद्र सिंह चौहान ने शिक्षक की मांगों में यूजीसी रेगुलेशन

एक्ट 2018 के करियर एडवांसमेंट अंतर्गत एसोसिएट प्रोफेसर से प्रोफेसर पद पर पदोन्नति, एकल स्थानांतरण प्रक्रिया को लागू करने व सरल बनाने की मांग, प्रदेश के 15 शिक्षकों के विनियमितीकरण की मांग, महाविद्यालय में संचालित स्ववित्तपोषित रेगुलर शिक्षकों के नियमितीकरण की मांग, सीसीए का शासनादेश निर्गत करने व भत्तों की कटौती को तत्काल बंद करने की मांग रखी। डॉ वीरेंद्र सिंह चौहान ने शासन को इंगित करते हुए यह स्पष्ट रूप से कहा कि यदि शासन भत्तों की कटौती को तत्काल प्रभाव से बंद नहीं करती है तो डिग्री शिक्षक लखनऊ में विशाल धरना आयोजित करने के लिए बाध्य होंगे। डॉ वीरेंद्र सिंह चौहान ने यह मांग की कि प्रदेश के वंचित लाइब्रेरियन के सातवें सातवें वेतन के निर्धारण की प्रक्रिया को शीघ्र अति शीघ्र पूरा किया जाए, नवनियुक्त पीएचडी और एमफिल शिक्षकों को पांच और तीन अतिरिक्त इंक्रीमेंट प्रदान किया जाए, प्रदेश के वंचित मंडलों में उच्च शिक्षा अधिकारी की नियुक्त किया जाए । विज्ञापन संख्या 42 के उन शिक्षकों को नियुक्ति प्रदान की जाए जो अभी तक कार्यभार ग्रहण नहीं कर पाए हैं।