Breaking News इटावा उतरप्रदेश देश पर्यटन

पर्यटकों के लिए फिर से अप्रैल के पहले सप्ताह खुलेगी इटावा लॉयन सफारी

संवाददाता मनोज कुमार राजौरिया :इटावा सफारी की लॉयन सफारी अप्रैल के पहले सप्ताह लोगों के लिए खोल दी जाएगी। इसके पहले पर्यटकों को लुभाने के लिए आगरा की होटल इंडस्ट्री के साथ कार्यशाला होगी और चंबल सेंचुरी की डाल्फिन व घड़ियाल का भी किया जाएगा। ये एलान शुक्रवार को वन विभाग के विश्रामगृह में प्रदेश के प्रधान मुख्य वन संरक्षक ने किया। 

प्रधान मुख्य वन संरक्षक रजीव कुमार गर्ग ने कहा कि इटावा सफारी लॉयन, लैपर्ड, डियर,बियर और एंटीलोेप सफरी हैं। डियर, बियर और एंटीलोेप सफारी पिछले साल खोली जा चुकी है लेकिन मुख्य आकर्षण लॉयन सफारी ही है। सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं, अप्रैल के पहले सप्ताह में लायन सफारी पर्यटकों के लिए खोल दी जाएगी।

गर्ग ने कहा कि इसके पहले सफारी के फूूड सेंटर को भी शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि धीरे-धीरे होने वाला काम बेहतर होता है। इसी तरह हम इटावा सफारी की सफारियों को धीरे-धीरे खोल रहे हैं। गर्ग ने कहा कि पर्यटकों के लिए अभी यहां माहौल बनाने की जरूरत है। उनका स्वागत करने के लिए कर्कश आवाज की जगह मुस्कराहट के साथ नर्म आवाज चाहिए।

कर्मचारियों को ऐसे व्यवहार में भी ढाला जाएगा।  उन्होंने कहा कि इटावा में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं। सेंचुरी क्षेत्र में चंबल नदी में डाल्फिन, घड़ियाल, मगरमच्छ और मछलियां हैं। इस क्षेत्र का प्रचार कम है। सफारी के साथ सेंचुरी और ताखा के वेटलैंड को जोड़कर प्रचार-प्रसार किया जाएगा। इससे पर्यटक निश्चित ही इटावा की ओर आकर्षित होंगे।

प्रधान मुख्य वन संरक्षक ने कहा कि आगरा की होटल इंडस्ट्री के साथ टाईअप की बातचीत चल रही है। ताजमहल देखने देश और विदेश के लाखों पर्यटक आते हैं। वहां की होटल इंडस्ट्री से जुड़कर आगरा आने वाले पर्यटकों को इटावा आने के लिए आसानी से लुभाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि जल्द ही होटल मालिकों के साथ एक कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा।

सफारी में हैं आठ शेर
लायन सफारी में अभी आठ शेर और तीन शावक हैं। इसमें जेसिका व हीर दो शेररियां हैं और शेर मनन, गीगो, पटौदी, शिम्बा, सुल्तान और बाहुबली हैं। जेसिक के तीन शावक भी हैं, वयस्क न होने के कारण उनकी गिनती नियमानुसार अभी कुनबे में नहीं की जा रही है।