Bahujan Samaj became the biggest preacher of the country: "But Upadesh Kushal Bahure"
Breaking News इटावा उतरप्रदेश सम्पादकीय

कविता: थकान

कवि: डॉ धर्मेंद्र कुमार थक गई है जिंदगी, के बोझ से मैं दब गया हूं। तैरती उस लाश के, इक खौफ से मैं डर गया हूं। क्या? कफन भी ना मिला जो राजशाही जी रहे थे। थी मिल्कियत लाख की जो रोज सब कुछ पी रहे थे। मैं समझता अमरता तुझको मिली सौगात में। देख […]

Banjar: Short Story
Breaking News आर्टिकल सम्पादकीय

बंजर: लघु कहानी

कथाकार -जया मोहन प्रयागराज रघु एक किसान था रमिया के साथ उसका विवाह हुए दस बरस से ऊपर हो रहा था। पता नहीं प्रभु की क्या मर्जी थी कि उनके आंगन में अभी तक किलकारी नहीं गूंजी थी। रघु अपनी पत्नी से बहुत प्रेम करता था। पत्नी थी भी सुंदर सुशील गुणों वाली दोनों औलाद […]

Holi Special: Rang Parv Holi Khumar and Panchayat Election
Breaking News आर्टिकल उतरप्रदेश सम्पादकीय

Holi Special:  रंग पर्व होली का खुमार एवं पंचायत चुनाव

सुनील पांडेय( कार्यकारी संपादक) मित्रों होली का त्यौहार तो बीत चुका है लेकिन हमें उम्मीद है आप सब के तन मन में रंग पर्व होली का खुमार अभी खत्म नहीं हुआ होगा। गुझिया की मिठास और रंग बिरंगे चिप्स -पापड़ की सोंधी खुशबू अभी आपके अंतर मन को महका अवश्य रही होगी ।चारों तरफ होली […]

Sant Shiromani Ravidas ji's birth anniversary celebrated
Breaking News उतरप्रदेश संत कबीर नगर सम्पादकीय

संत शिरोमणि रविदास जी की जयंती मनाई गयी

लेखिका  सोनिया (व्यायाम शिक्षिका -राजकीय कन्या इंटर कॉलेज खलीलाबाद- संतकबीर नगर ) संत शिरोमणि रविदास जी की जयंती के अवसर पर उनके जीवन पर प्रकाश डालते हुए राजकीय कन्या इंटर कॉलेज खलीलाबाद की व्यायाम शिक्षिका सोनिया ने बताया कि हिंदू पंचांग के अनुसार संत रविदास जी का जन्म माघ माह की पूर्णिमा तिथि को वर्ष […]

Etawah News: Nishkam, Karma Yogi Nation pays tribute to Sant Gadge Maharaj
Breaking News इटावा उतरप्रदेश सम्पादकीय

Etawah News: निष्काम ,कर्म योगी राष्ट्र संत गाडगे महाराज को श्रद्धा पूर्वक नमन

लेखक डॉ धर्मेन्द्र कुमार  विलक्षण, अद्भुत ,अलौकिक, युग परिवर्तक राष्ट्र संत गाडगे महाराज का जन्म महाराष्ट्र अमरावती जिले के शेड गांव अंजनगांव 23 फरवरी 1876 को हुआ था l 1905 से 1917 तक के अज्ञात इतिहास में उन्होंने जीवन के अभावग्रस्त असली स्वरूप अपनी आंखों से देखा था l अनेकों भूखे पेट, निर्वस्त्र, अनपढ़ ,बेकार […]

Breaking News आगरा इटावा उतरप्रदेश सम्पादकीय

अंतर्राष्ट्रीय सार्क (SAARC) पत्रकार मंच के कार्यकारी सदस्य बनने पर जनवाद टाइम्स के प्रधान संपादक डॉ एम.के. निगम को बधाई

संवाददाता मनोज कुमार राजौरिया आगरा : सार्क पत्रकार मंच ने अपने सभी सम्मानित सदस्यों का नाम घोषित कर दी हैं. जिसमे अध्यक्ष – श्री अनिरुद्ध सुधांशु जी हैं. वहीं छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार और ‘द न्यूज़ इंडिया’ समाचार सेवा हिंदी/अंग्रेजी के मैनेजिंग डायरेक्टर ,गरजा छत्तीसगढ़ वेब पोर्टल के प्रधान संपादक खुलासपोस्ट न्यूज़ के प्रधान संपादक […]

State governments do not learn from natural disaster
Breaking News आर्टिकल उतरप्रदेश सम्पादकीय

प्राकृतिक आपदा से राज्य सरकारें सबक नहीं लेतीं

सुनील पांडेय- कार्यकारी संपादक भारत की पवित्रम स्थलों में एक उत्तराखंड राज्य में 8 फरवरी रविवार को आई प्राकृतिक जल आपदा से वहां का जनजीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो गया । उत्तरा -खंड राज्य में इस तरह का कहर सात वर्ष पूर्व वर्ष 2013 में 16 जून को रात चौराबाड़ी ग्लेशियर में बनी झील […]

डिजिटल युग में मीडिया के समक्ष चुनौतियां - सोनिया राजकीय कन्या इंटर कॉलेज खलीलाबाद
देश सम्पादकीय

डिजिटल युग में मीडिया के समक्ष चुनौतियां – सोनिया राजकीय कन्या इंटर कॉलेज खलीलाबाद

संतकबीरनगर की व्यायाम शिक्षिका सोनिया ने बताया कि डिजिटल युग में प्रिंट मीडिया के समक्ष बहुत बड़ी चुनौतिया आ रही हैं। आज पूरी दुनिया में कोई ऐसी जगह नहीं है जहां पर मीडिया तथा संचार क्रांति ने अपनी पैठ ना बना ली हो । हम कहीं भी जाएं संचार किसी न किसी रूप में हमारे […]

Breaking News आर्टिकल इटावा उतरप्रदेश सम्पादकीय

बुरा जो देखन मैं चला, बुरा न मिलिया कोय। जो दिल खोजा आपना, मुझसे बुरा न कोय।। : डा. धर्मेंद्र कुमार

लेखक: डा. धर्मेंद्र कुमार इटावा: हम बुरे हैं ,बस यह बात स्वीकार नहीं कर सकते हैं l दूसरों की तुलना में खुद को सर्वोच्च साबित करने में युग बीत गए हैं l समय, काल, परिस्थितियों में हमारी गुलामी चाहे वह देशगत रही हो या जातिगत ,उसका संपूर्ण उत्तरदायित्व हमारा स्वयं का हैl किंतु हम अंगुली […]

सम्पादकीय

कैलेंडर वाला बच्चा : सुनील पांडेय ‘सुकुमार ‘

कैलेंडर वाला बच्चा (कहानी) सुनील पांडेय ‘सुकुमार ‘ श्याम को बचपन से ही छोटे बच्चों से बेहद लगाव था। बच्चों को वो बेइंतहा पसंद करता था। बचपन में वह अखबार, मैगजीन आदि से बच्चों की तस्वीर काट कर रखता था और उन्हें अपने कमरे की दीवारों पर चिपकाए रखता। हर रविवार अथवा छुट्टी के दिन […]