State governments do not learn from natural disaster
Breaking News आर्टिकल उतरप्रदेश सम्पादकीय

प्राकृतिक आपदा से राज्य सरकारें सबक नहीं लेतीं

सुनील पांडेय- कार्यकारी संपादक भारत की पवित्रम स्थलों में एक उत्तराखंड राज्य में 8 फरवरी रविवार को आई प्राकृतिक जल आपदा से वहां का जनजीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो गया । उत्तरा -खंड राज्य में इस तरह का कहर सात वर्ष पूर्व वर्ष 2013 में 16 जून को रात चौराबाड़ी ग्लेशियर में बनी झील […]

Breaking News आर्टिकल इटावा उतरप्रदेश सम्पादकीय

बुरा जो देखन मैं चला, बुरा न मिलिया कोय। जो दिल खोजा आपना, मुझसे बुरा न कोय।। : डा. धर्मेंद्र कुमार

लेखक: डा. धर्मेंद्र कुमार इटावा: हम बुरे हैं ,बस यह बात स्वीकार नहीं कर सकते हैं l दूसरों की तुलना में खुद को सर्वोच्च साबित करने में युग बीत गए हैं l समय, काल, परिस्थितियों में हमारी गुलामी चाहे वह देशगत रही हो या जातिगत ,उसका संपूर्ण उत्तरदायित्व हमारा स्वयं का हैl किंतु हम अंगुली […]

Integrating government, pollution and satellite: Dr. Dharmendra Kumar
Breaking News आगरा आर्टिकल इटावा उतरप्रदेश त्वरित टिप्पड़ी देश पाठक के पत्र विधि जगत सम्पादकीय

सरकार, प्रदूषण व सेटेलाइट का घालमेल : डॉ धर्मेंद्र कुमार

लेखन डॉ धर्मेंद्र कुमार किसानों की हितैषी भारतीय जनता पार्टी सरकार ने किसानों की धान की फसल कटने के बाद उसके सामने बड़ा संकट खड़ा कर डरा दिया कि किसान की पराली से प्रदूषण होता है l कुछ किसानों ने तुगलकी फरमान की परवाह नहीं की और पराली जला दी l उन पर मुकदमे हुए, […]

Breaking News आर्टिकल देश विदेश

संबंधों के दायरे में भारत नेपाल

  सुनील पांडेय : कार्यकारी संपादक भारत एवं नेपाल दुनिया के दो ऐसे देश हैं जो सामरिक , राजनीतिक, कूटनीतिक एवं आर्थिक दृष्टि से ना केवल एक दूसरे के सहयोगी ही नहीं अपितु समर्थक भी हैं।दोनों देशों के प्रगाढ़ संबंधों का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है दोनों देश एक दूसरे के यहां […]

आर्टिकल देश विधि जगत

एंटीबायोटिक, संक्रामक रोगों से लड़ने और उन पर काबू पाने की एक खोज

  मनोज कुमार राजौरिया । साल 1928 में ब्रिटिश वैज्ञानिक अलेक्जेंडर फ्लेमिंग ने पेन्सिलीन नामक पहले एंटीबायोटिक की खोज करके संक्रामक रोगों से लड़ने और उन पर काबू पाने का रास्ता दिखाया था। आगे चल कर एंटीबायोटिक दवाएं संक्रामक रोगों के उपचार में रामबाण साबित हुईं। ★ हालांकि अब एक नई वास्तविकता यह सामने आ […]

आर्टिकल इटावा उतरप्रदेश

Etawah News : लॉक डाउन 4.0 में झलका सविता समाज का दर्द

  रिषीपाल सिंह इटावा । कस्बा बसरेहर, सविता समाज के संरक्षक श्री मनोज कुमार सविता ने कहा कि कोराना महामारी को लेकर लॉक डाउन में सविता समाज के वह व्यक्ति जो सैलून चलाते थे, गांव-गांव में छोटे-मोटे कस्बे में भी इसी के माध्यम से अपनी रोजी रोटी कमाते थे,जिससे उनके परिवार का भरण पोषण होता […]

आर्टिकल देश सम्पादकीय

पीएम मोदी का आर्थिक पैकेज क्या भारतीय अर्थव्यवस्था को गति दे सकेगा ?

  सुनील पांडेय कार्यकारी संपादक भारत को करोना संक्रमण जैसे वैश्विक आपदा से लड़ने के लिए पीएम मोदी ने कल यानी 12 मई को रात्रि 8:00 बजे 20 लाख करोड़ रुपए का एक भारी भरकम आर्थिक पैकेज जारी करने की घोषणा की। यह भारतीय जीडीपी का करीब करीब 10 फ़ीसदी हिस्सा है। जीडीपी के 10 […]

Breaking News आर्टिकल कुंदरकी देश

मदर्स डे पर सोशल मीडिया पर कुछ यूं दिखा मां के लिए प्यार

  रिषीपाल सिंह :  देश दुनिया आज संपूर्ण देश में मदर्स डे बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है भारत और कनाडा में भी अमेरिका की तर्ज पर मदर्स डे मई महीने के दूसरे रविवार को मनाया जाता है यूरोप के कई देशों में इसे मदरिंग डे के रुप में मनाया जाता है […]

अध्यात्म आर्टिकल देश सम्पादकीय

बुद्ध पूर्णिमा पर विशेष : बुद्धं शरणंम गच्छामि 

बुद्ध पूर्णिमा पर विशेष : कार्यकारी संपादक सुनील पांडेय बुद्धं शरणंम गच्छामि  भारत विभिन्न धर्मों की जन्म स्थली रही है ।उन्हीं धर्मों में एक लोकप्रिय धर्म बौद्ध धर्म भी है। जिसका प्रवर्तक महात्मा बुद्ध को माना जाता है। महात्मा बुद्ध का धर्म अत्यंत व्यावहारिक था वह मनुष्य के चरमोत्कर्ष का पूर्ण साधन था। वह इहलोक […]

अध्यात्म आर्टिकल देश सम्पादकीय

बुद्ध पूर्णिमा विशेषांक : महात्मा बुद्ध त्याग बलिदान और ज्ञान का सार्थक रूप, आओ जाने उनके जीवन के बारे में

  वरिष्ठ पत्रकार : मनोज कुमार राजौरिया बुद्ध पूर्णिमा पर जनवाद टाइम्स का नमन पदिये ये लेख जो एक साधारण बालक सिद्धार्थ को उनके त्याग, ज्ञान, बलिदानों के लिए महात्मा बौद्ध बनने की दास्तान है। महात्मा बुद्ध बौद्ध धर्म के संस्थापक थे। उनका आरंभिक नाम सिद्धार्थ था। 29 वर्ष की आयु में उन्होंने सच्चे ज्ञान की […]