Breaking News अंबेडकर नगर उतरप्रदेश

संवाददाता पंकज कुमार

अम्बेडकर नगर जिले के बिधान सभा आलापुर क्षेत्र के निकट थाना जहांगीरगंज अंतर्गत किसी भी व्यक्ति का संस्कार ही उसके व्यक्तित्व की पहचान होता है इसलिए अपने परिवार और समाज को संस्कारवान बनाना चाहिए ।उक्त बातें नव दिवसीय श्री शतचंडी महायज्ञ अकथरा नरायनपुर में मां अकथरी देवी के मंदिर प्रांगण में चल रही संगीतमयी श्रीमद् भागवत कथा वाचक आचार्य धनेश जी महाराज ने कही । आपको बता दें कि कथा के तीसरे दिन कथावाचक आचार्य धनेश ने राजा परीक्षित के जन्म उद्धव संबाद सृष्टि का वर्णन वामन प्रसंग आदि चरित्रों का सुन्दर वर्णन श्रोताओं को सुनाया। संत मिलन को जाइए तज ममता अभिमान ज्यों ज्यो पग आगे बढ़े कोटिन यज्ञ समान।। कथावाचक आचार्य धनेश जी महाराज ने कहा कि व्यक्ति को हमेशा अपने संस्कार से और अपने व्यक्तित्व से समाज में सही कार्य करना चाहिए पूजा- अर्चना करने से मन को बहुत शांति मिलती है। आस्था और विश्वास से सब कुछ पाया जा सकता है ।यज्ञ में जहांगीरगंज के समाजसेवी ,सपा के पूर्व प्रदेश सचिव योगेन्द्रनाथ त्रिपाठी ने पहुंचकर दीप प्रज्वलन कर आरती किया और उपस्थित भक्त जनों का आभार जताया। ‌ मौके पर सैकड़ों श्रद्धालु मंदिर प्रांगण में उपस्थित होकर भागवत कथा का भक्तिभाव से आनन्द लिया ।