Breaking News अध्यात्म आगरा उतरप्रदेश

संत जितेंद्र दास ने पेश किया ईमानदारी की मिसाल

संवाददाता रनवीर सिंह : बाह क क्षेत्र के प्रथम पुरागांव के सन्त राम पाल के परम् भक्त जितेंद्र दास पुत्र महावीर दास ने आज ईमान दारी की मिशाल पेस की क्षेत्रीय लोगों एंव दम्पति डाक्टर बन्दना महेश्वरी

पत्नी डाक्टर सुबोध कुमार महेश्वरी निवासी धह तोरा मोड़ बो दला आगरा निवासी का एम आई 20,000 का मोवाइल बोदला रोड पर गिर था । उधर निकल पैदल जा रहे रामपाल के भक्त जितेंद्र दास ने जब देखा तो मोवाइल की घण्टी बजते देख उन्होंने तुरन्त मोबाइल को उठाया और इधर उधर देख वहीं पर बैठ गए एक घण्टे बीत जाने के बाद दुबारा से कॉल आई तुरन्त मोवाइल को रिसीव किया और उधर से डाक्टर बन्दना महेश्वरी की आवाज़ आई और बोली मेरा फोन कहीं गिर गया है मेरा फोन मिलेगा भगत जी बोले में एक घण्टे से तुम्हारा इन्तजार करहा हूँ अपना आकर मोवाइल ले लें तुम्हारे फोन में पासवर्ड पड़ा होने से तुम्हारे लिए में फोन नहीं कर सका। डाक्टर बन्दना ओर उनके पति डाक्टर सुबोध महेश्वरी दोनों ने आकर मोबाइल अपने हाथोंमेंलिया और  भगत जी को कुछ रुपये ईनाम के तौर पर देने को कहा लेकिन सन्त राम

पाल के भक्त जितेंद्र भगत तुरन्त रुपये लेने से मने किया।और उन्होंने अपने गुरु राम पाल के बारे में जान कारी दी ये सब सुनकर डाक्टर दम्पति सन्त रामपाल के विचार सुनकर उनसे बहुत प्रभावित हुए और उन्होंने बहुत बहुत प्रसंसा की।इस रामपाल भगत जितेंद्र दास की ईमान दारी की बाह  क्षेत्र में प्रशंसा हो रही है।