Breaking News अपराध उतरप्रदेश त्वरित टिप्पड़ी प्रतापगढ़

मनजीत पटेल हत्याकांड का एफ आई आर दर्ज मान्धाता थाने के दो सिपाही के के सिंह और अजय सिंह को लाइन हाजिर, डॉक्टर आरके वर्मा विधायक विश्वनाथगंज की उपस्थिति में हुआ अंतिम संस्कार

संवाददाता गुलाब चंद गौतम :जनपद प्रतापगढ़ मान्धाता थाना क्षेत्र के ग्राम उसरापुर में रास्ते के विवाद में दो पक्षों में चले लाठी-डंडे व ईट, फावड़े आदि एक युवक मंजीत पटेल उम्र 16 वर्ष पुत्र बदतरी प्रसाद पटेल की मौत हो गई थी ‌‌। प्रधान इंद्र नारायण मिश्र पर हत्या की साज़िश का आरोप लगा कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया ‌। पुलिस ने दो महिला और तीन पुरुष को घटना के एक घंटे बाद ही गिरफ्तार कर लिया। साज़िश के आरोपी ग्राम प्रधान के न मिलने पर उनके घर के दो महिलाओं को हिरासत में ले लिया है। उधर मान्धाता थाने के दो सिपाही के के सिंह और अजय सिंह को लाइन हाजिर कर दिया गया। साथ ही दो एस आई घनश्याम सिंह एवं कमल कुमार रस्तोगी की भूमिका की जांच शुरू कर दिया गया है।

उस झगड़े में दोनों पक्ष के आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हुए थे। रास्ते का विवाद लम्बे समय से चला आ रहा है ।युवक की मौत के बाद उसरापुर में गवई राजनीति चालू हो। जिसका परिणाम रहा कि मौत के 53 घंटे। पहले तो परिजनों की मांग थी कि वर्तमान प्रधान इंद्र नारायण मिश्र की साज़िश से उसकी हत्या की गई। उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज हो। मुकदमा दर्ज कर के प्रधान की तलाश के लिए पुलिस की तीन टीमें बनाकर अमेठी, सुल्तानपुर, कोहंडौर में दविस दी गई।
उसके बाद जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक के आने पर अड़े रह गए। फिर मांग उठाई गई कि दस लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाय। क्षेत्रीय विधायक मौके पर आएं। उप मुख्यमंत्री के जिले में आने के कारण विधायक सायं साढ़े चार बजे पहुंचे और और सवा तीन घंटे तक मनाने का प्रयास किया। मानें कि

सुबह दस बजे श्रृंगवेरपुर अंतिम संस्कार कर दिया जाएगा दो बिस्वा जमीन कब्रिस्तान की मांग की। वह भी मान ली गई। सुबह पैमाईश कर के जमीन उपलब्ध कराई गई।

आज तीसरे दिन सुबह मांग उठी कि लाश रास्ते में ही दफनाई जायेगी।
इस मामले में जिले के कई आला अफसर आए। लेकिन किसी की एक भी बात सुनी नहीं गई।
पूर्व प्रधान हबीब उल्ला के नेतृत्व में पल पल पर गवई राजनीति हावी होती जा रही थी। जिसके कारण अंतिम संस्कार की प्रक्रिया आगे बढ़ती जा रही थी।
पूर्व प्रधान के कहने पर ही दफनाई जाएगी लाश।वे जिस स्थान पर और जब चाहेंगे वहीं दफनाई जाएगी लाश। यह चर्चा की जा रही है। पूर्व प्रधान के इशारे पर नाच रहे हैं.

दोबारा मनाने पहुँचे विधायक:  जब यह खबर विधायक डा. आर के वर्मा तक पहुंची तो विधायक जी परिजनों को दोबारा मनाने के लिए पहुच गये और

कुछ दूरी पर मृतक का खेत था वही पर अन्तिम संस्कार करवाये विधायक विश्वनाथगंज डा. आर के बर्मा I