Breaking News उतरप्रदेश त्वरित टिप्पड़ी देश प्रतापगढ़

प्रतापगढ़ में तहसील विभाजन से नाराज अधिवक्ताओं का चक्का जाम

संवाददाता गुलाबचंद गौतम : पट्टी प्रतापगढ़ कोहडौ़र इलाके के 124 गांव पट्टी तहसील से काटकर सदर जोड़े जाने की प्रक्रिया से अधिवक्ताओं में खासी नाराजगी है ।तहसील का अधिवक्ता समुदाय इसको लेकर आंदोलन पर उतर आया है । गुरुवार की सुबह 10:00 बजे तहसील खुलने पर अधिवक्ताओं ने तहसील गेट बंद कर पट्टी प्रतापगढ़ मार्ग को जाम कर दिया । इस दौरान अधिवक्ताओं ने प्रशासन मुर्दाबाद तथा भाजपा सांसद संगम लाल मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। अधिवक्ताओं का आरोप है कि तहसील के गांव को काटकर सदर से जोड़े जाने के पीछे भाजपा सांसद का प्रयास है जिसे अधिवक्ता खासे नाराज हैं। अधिवक्ताओं की मांग है कि यह गांव तहसील से काटे नहीं जाने चाहिए क्योंकि पूर्व में पट्टी तहसील से ही काटकर रानीगंज तहसील एक बार बनाई जा चुकी है। ऐसे में इससे अधिवक्ताओं को दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा । इसके साथ ही वादकारियों को भी समस्या झेलनी पड़ेगी। अपनी मांगों को लेकर विरोध जताते हुए अधिवक्ताओं ने चक्का जाम कर रखा है। मौके पर भारी पुलिस बल मौजूद है।

अधिवक्ताओं के इस प्रदर्शन में बार अध्यक्ष राधा रमण मिश्र, ओम प्रकाश सिंह अमर जीत शर्मा वंश बहादुर सिंह, विष्णु तिवारी, रवि सिंह, मानस त्रिपाठी, रणविजय सिंह, उमेश तिवारी, मनीष तिवारी राज कुमार वर्मा सहित तहसील के तमाम अधिवक्ता शामिल रहे।

हालांकि बाद में एसडीएम पट्टी   डी.पी .सिंह व C.O. नव कुमार व SHO नारेन्द्र सिंह धरना स्थल पर आये SDM के आश्वासन पर अधिवक्ताओं ने रोड जाम को स्थगित कर दिया।