उतरप्रदेश प्रतापगढ़

जनपद प्रतापगढ़ में गंगा यात्रा का दिव्य एवं भव्य स्वागत किया गया

संवाददातााा गुलाब चंद्र गौतम :  माँ जीवनदायनी बनकर हमारी रक्षा करती है-उप मुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा माँ गंगा को निर्मल एवं स्वच्छ बनाने का ले संकल्प-केन्द्रीय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने प्रतापगढ़ में आज गंगा यात्रा का स्वागत दिव्य एवं भव्य तरीके से किया गया। गंगा यात्रा के दौरान कार्यक्रम स्थल कालाकांकर हाउस गंगा घाट के किनारे माँ गंगा जी का पूजन केन्द्रीय मंत्री भारत सरकार स्मृति जुबिन ईरानी, प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, ग्राम्य विकास विभाग मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह’’,

जनपद के प्रभारी मंत्री डा0 नीलकंठ तिवारी, प्रदेश मंत्री/कार्यक्रम प्रभारी/जिला प्रभारी शंकर गिरि जी, सांसद प्रतापगढ़ संगम लाल गुप्ता, सांसद कौशाम्बी विनोद सोनकर, विधायक रानीगंज धीरज ओझा, विधायक विश्वनाथगंज डा0 आर0के0 वर्मा, विधायक सदर राजकुमार पाल, भाजपा जिलाध्यक्ष हरिओम मिश्र, क्षेत्रीय मंत्री काशी प्रान्त पवन गौतम, सदस्य प्रदेश परिषद शिव प्रकास सेनानी जी, जिला पंचायत सदस्य प्रकाश सिंह, पूर्व सांसद राजकुमारी रत्ना सिंह, युवराज भुवन्यू सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष/कार्यक्रम संयोजक राकेश त्रिवेदी, संचालन कार्यक्रम प्रभारी

राजेश मिश्र राजन आदि जनप्रतिनिधियों, यात्रा में सम्मिलित लोगों एवं ग्रामवासियों द्वारा किया गया।
गंगा यात्रा के कार्यक्रम में प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा ने जनसभा को सम्बोधित करते हुये कहा कि माँ गंगा जीवनदायनी बनकर हम लोगों की रक्षा करती है। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने माँ गंगा को निर्मल, अविरल, पवित्र एवं स्वच्छ बनाने का जो संकल्प लिया है उस संकल्प को पूर्ण करने में गंगा यात्रा का महाअभियान लोगों में जनजागरूकता फैलाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा। गंगा यात्रा का यह अभियान लोगों में माँ गंगा को निर्मल, अविरल व स्वच्छ बनाने का संकल्प लेने और लोगों के मनोदशा परिवर्तन का अभियान है। उन्होने कहा कि माँ गंगा को माँ, धरती माता को माँ और गौ माता को माँ यह त्रिकोण निश्चित ही जीवन के मार्ग को प्रशस्त करने में सहायक है। गंगा यात्रा के दौरान गंगा के किनारे बसे गांवों में जैविक विधि से खेती, पशु आरोग्य मेला, धार्मिक स्थलों का जीर्णोद्धार, गंगा पार्क, गंगा चबूतरा व पौध की नर्सरी और समग्र ग्राम्य विकास विभाग द्वारा लोगों को अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराने हेतु समूह के गठन का कार्य भी किया जा रहा है।
इस दौरान केन्द्रीय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने सम्बोधित करते हुये कहा कि देश बापू जी की पुण्य तिथि मना रहा है, बापू जी पुण्य तिथि के अवसर पर आज कालाकांकर घाट पर माँ गंगा के चरणों में प्रणाम करती हूँ। उन्होने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने कालाकांकर घाट पर स्वाधीनता स्वराज की परिकल्पना से अंग्रेजों को ललकारा था। उन्होने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने जो गंगा यात्रा की शुरूआत की है वह गंगा यात्रा प्रतापगढ़ के कालाकांकर के गंगा तट पर आज पहुॅची है। माँ गंगा को नदी के रूप में नही बल्कि माँ गंगा के रूप में पूजा की जाती है। उन्होने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने माँ गंगा को निर्मल एवं अविरल मनाने का जो संकल्प लिया है उस संकल्प को पूर्ण करने हेतु प्रधानमंत्री ने नमामि गंगे योजना के तहत 20 हजार करोड़ रूपये गंगा को स्वच्छ एवं सुन्दर बनाने हेतु धनराशि आवंटित की है। उन्होने कहा कि माँ गंगा को निर्मल एवं स्वच्छ बनाने का संकल्प हम सभी को लेना होगा तभी यह अभियान पूर्ण रूपेण सफल होगा। उन्होने कहा मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में गंगा यात्रा के माध्यम से गंगा के किनारे बसे गांवों को ओ0डी0एफ0 घोषित किया गया और 80 डेªनेज के दूषित पानी को माँ गंगा में प्रवाह से रोकने का कार्य किया गया और गंगा के किनारे तटवर्ती इलाकों में शमसान घाट के निर्माण का कार्य भी किया गया। आयुष्मान योजनान्तर्गत लोगों को 50 हजार गोल्डेन कार्ड का वितरण भी किया गया। इसी प्रकार से अनेक योजनायें लोगों के जीवन में खुशहाली लाने हेतु केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा चलायी जा रही है। गंगा यात्रा के दौरान गंगा के किनारे बसी गांवों की महिलायें द्वारा माँ गंगा की पूजा के समय जो माथे पर शान से तिलक लगाकर पूजन का कार्य करती है वह एक नारी शक्ति का प्रतीक होती है। गांवों की महिलायें समूह के माध्यम से व्यापार कर अन्नपूर्णा शक्ति के रूप में आगे बढ़ रही है। गंगा यात्रा के दौरान गांवों में समूह गठन का जो कार्य चल रहा है उससे महिलाये आत्मनिर्भर हो रही है।
इस अवसर पर समग्र ग्राम्य विकास विभाग मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह’’ ने कहा कि गंगा यात्रा जो बलिया चलकर विभिन्न जनपदों से होते हुये आज जनपद प्रतापगढ़ में पहुॅची है उसका भव्य तरीके से स्वागत किया गया। गंगा यात्रा के दौरान जनपद के किनारे बसे गांवों में विकास की गंगा बह रही है और लोगों को केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ शत प्रतिशत शिविरों के माध्यम से दिया जा रहा है। उन्होने कहा कि देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने नमामि गंगे योजना के अन्तर्गत गंगा को शुद्ध करने का जो दृढ़ संकल्प लिया है उस संकल्प को आगे बढ़ाने में यह गंगा यात्रा कारगर साबित होगी।
कौशाम्बी सांसद विनोद सोनकर ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा गंगा यात्रा का जो अभियान चलाया जा रहा है इस अभियान में आमजन मानस बढ़-चढ़कर अपनी भागीदारी निभा रहे है और अनेक योजनाओं से लाभान्वित भी हो रहे है। उन्होने कहा कि गंगा हमारी पहचान और संस्कृति की धरोहर है। माँ गंगा को निर्मल एवं अविरल बनाये रखने हेतु अनेक प्रकार की योजनायें संचालित हो रही है।
पूर्व सांसद राजकुमारी रत्ना सिंह ने गंगा यात्रा का स्वागत करते हुये कहा कि इसी कालाकांकर घाट पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी ने सन् 1929 में तीन दिवस निवास किये थे और अंग्रेजों को विरोध किये थे। कार्यक्रम स्थल पर एन0आर0एल0एम0 योजनान्तर्गत 48 समूहों को स्टार्टअप फण्ड, 124 समूहों को रिवाल्विंग फण्ड, 100 समूहों को सी0आई0एफ0, 04 ग्राम संगठनों को स्टार्टअप फण्ड, 08 संगठनों को जोखिम निवारण निधि के रूप में कुल 1 करोड़ 39 लाख 25 हजार का डेमो चेक के माध्यम से वितरण किया गया। लेहदरी पुल पर भव्य तरीके से जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही, मुख्य विकास अधिकारी अमित पाल, पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष हरिओम मिश्र व पार्टी के पदाधिकारी, अधिकारीगण, तथा एन0सी0सी0 कैडेट, स्कूल के छात्र/छात्राओं एवं स्वैच्छिक संगठनों द्वारा किया गया। यह गंगा यात्रा लेहदरी पुल, चैराही तिराहा, आलापुर तिराहा, कालाकांकर ब्लाक के सामने व प्राथमिक विद्यालय कालाकांकर होते हुये कालाकांकर गंगा घाट के किनारे पहुॅची। नेहरू युवा केन्द्र के विभिन्न प्रान्तों से आये हुये छात्र/छात्राओं ने राष्ट्रीय एकता षिविर के माध्यम से सांस्कृतिक की मनमोहक प्रस्तुत की गयी जिसमें छात्र/छात्राओं द्वारा गु्रप सांग एवं डान्स, लघु नाटक नमामि गंगे, गुरूंग नृत्य, कश्मीरी डान्स, महाराष्ट्र की लोक धारा लोक कथा, पंजाबी बोलिया/भांगड़ा, हिमांचली नडी/लोक नृत्य, कर्मा लोक नृत्य, कान्हा की होली समूह नृत्य, ओडिसी नृत्य, समूह नृत्य हरियाणवी सांग एवं नृत्य, रिंकू साहू बांसुरी वादन के माध्यम से कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये।
गंगा यात्रा के दौरान कालाकांकर गंगा घाट पर विभिन्न विभागों द्वारा प्रदर्षनी लगायी गयी जिसमें लोगों को विभिन्न योजनाओं के प्रति जागरूक किया गया। सूचना विभाग द्वारा गंगा यात्रा पर लगायी गयी प्रदर्षनी का हजारों की संख्या में लोगों ने अवलोकन किया। सूचना विभाग द्वारा आमजनमानस को कलेण्डर, प्रचार साहित्य का वितरण भी किया गया। एल0ई0डी0 वीडियो वैन के माध्यम से भी लोगों को कार्यक्रम स्थल पर जागरूक किया गया।