Breaking News अध्यात्म आगरा उतरप्रदेश देश पर्यटन

उत्तर भारत के प्रसिद्ध बटेश्वर मेले में नवमी के पर्व पर पुलिस प्रशासन मुस्तैद

 

संवाददाता रनवीर सिंह : उत्तर भारत का सुविख्यात लोक मेले में आज मंगलवार को नवमी पर्व पर मुख्य पुजारी जय प्रकाश गोस्वामी एंव मेला कोतवाल बी आर दीक्षित नर बताया नवमी पर्व पर सुबह 6 बजे से शाम तीन बजे तक जन महिलाओं की भीड़ को देखते 

हुए उनकी सुरक्षा को लेकर मेन पॉइंट पर पुलिस फोर्स की तैनाती कर दी गई है और आवारा असामाजिक तत्वों को देखते हुए परिक्रमा मार्ग में उल्टी एकादशी मंदिर से लेकर राज माता, वन खण्डेश्वर और सभी यमुना घाटों पर पुलिस के जवान तैनात कर दिये है,

जिसमें महिला पुलिस भी भीड़ के चलते आंवला पेड़ तक पुलिस मुस्तैद रही भीड़ के कारण एक महिला । श्रद्धालु की दो वर्ष की बच्ची अपने परिजनों से बिछुड़ गईं 3 घण्टे मेला कोतवाल अपने साथ परिजनों से

बिछुड़ी बच्ची को गाड़ी में बिठा कर परिजनों को देखने कीपरिक्रमा मार्ग में घुमाते रहे बड़ी मुश्किल से परिजनों से मुलाकात कर उनको सौंपा। राजा राम पूरा जरार निवासी 6 वर्षीय आरुषि को उनकी मां ममता को सौंपा मां को देखते ही आरुषि ओर उसकी माँ मिल कर रोई।

बटेश्वर मेले में नवमी पर्व पर मंगलवार को महिलाओं और युवक्तियों ने सात कोसीय नंगे पैर चलकर परिक्रमा ओर यमुना मईया में उल्टी एकादसी मंदिर में

पूजा अर्चना कर यमुना में और किनारे पर जौ बोकर भोले बाबा से मनैती मांग कर आंवला के पेड़ की कच्चे धागे से अपनी सुहागिनों ने अपने पति की लम्बी आयु की मनौती मांगी और क्वारी युवक्तियों ने अपने अच्छे वर के लिए मांगी मनोती मांग ने के लिये आंवला अक्षय नवमी पर महिला श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी । उसके बाद शिव पार्वती पर सुहागिनों ने श्रृंगार चढा कर परिवार की सुख की काँमना की। आंवला पेड़ की विधि विधान से पूजा कर 101 परिक्रमा कच्चे धागे के साथ बाधकर पकवानों से भोग लगाकर पूजा अर्चना की ।