Breaking News आगरा उतरप्रदेश देश पर्यटन

उत्तर भारत का प्रसिद्ध पशु मेला बटेश्वर में लोक मेले के लिये दुकानों का आवंटन, प्रशासन द्वारा 12 चौकियों की स्थापना

संवाददाता रनवीर सिंह : उत्तर भारत का प्रसिद्ध पशु मेला बटेश्वर में लोक मेले के लिये गुरु वार को जिला पंचायत मेला प्रभारी अमित प्रताप सिंह द्वारा लोक मेले के लिए दुकान व्यापारियों को को दुकानों का आवंटन कर रसीद वितरण करते हुए। मेले में

सुरक्षा के चलते 12 चौकियों वन खंडेश्वर गधा पाडा ,बस अड्डा,घोड़ा बाजार,नोरंगी घाट,कलिंजर, मुख्य मंदिर,पथतर बाजार,कम्बल बाजार।झूला बाजार,मोत का कुआ, ऊंट बाजार। खांद चौराहा सहित 12 चौकियों की स्थापना हो चुकी है। मेला कोतवाल वी आर दीक्षित ने बताया जैसे जैसे फोर्स आता जाएगा अन्य चौकियां भी स्थापित कर दी जाएंगी। जबकि 24 चौकियों की स्थापना होनी है।
वही बटेश्वर निवासी रामहेत पुत्र तांती राम निवासी धारे काबाग कलीजर घोड़ा बाजार में घोड़े को देख रहे थे, देखते भक्त घोड़े ने मारी लात जिससे हाथ गया । परिजन तुरन्त डाक्टर पास लेजा कर टूटे हुए हाथकी बाजू में चढ़ा पल स्तर।

पशु मेले में घोड़ा बाजार में किसान रामहेत ,बटेश्वर।उत्तर भारत का सुविख्यात पशु मेले में खच्चर वाजार में उम्दा नशलों के खच्चरों का मेले मे एक कच्छर की कीमत साढ़े तीन लाख का खच्चर की कीमत का खच्चर बताई है इस के स्वामी निजामउद्दीन कन्नौज निवासी।आठ खच्चर लेकर पहुंचे है। जालोंन के

कोटरा निवासी जुम्मन भाई ने इस कि कीमत तीन लाख तक लगादी है। जुम्मन भाई कन्नौज निवासी ने बताया यह उम्दा नश्ल का खच्चर है। ऐसी नश्ल का कच्छर पूरे मेला क्षेत्र में निकाल कर दिखा दे उसको उचित ईनाम दिया जाएगा।अब मेले में घोड़ा और खच्चर बाजार में नाममात्र के घोड़ा और खच्चर रहे गये हैं। ऊंट बाजार तो सामाप्त गया है।