Breaking News आगरा उतरप्रदेश

अटल की जयंती पर बटेश्वर में अनशन पर बैठे घनश्याम भारतीय, बाह को ज़िला बनाने की माँग ने पकड़ा ज़ोर

संवाददाता रनवीर सिंह : तीर्थ धाम बटेश्वर में बुध वार को पूर्व प्रधान मंत्री एंब भारत रत्न स्वर्गीय पूर्व प्रधान मंत्री श्री अटल बिहारी बाजपेई के जयंती के शुभ अवसर पर आज बटेश्वर वासियों ने उनके पैतृक जन्म भूमि पर हवन यज्ञ कर उनके सभी रिश्ते दार एवं बटेश्वर के ग्रामीणों ने उनकी तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर किया नमन । बटेश्वर के समाज सेवियों ने कहा

  1. कि प्रशासन ने उनके गांव बटेश्वर में जो घोषणाएं की आज तक कोई धरातल पर नहीं दिखी केवल कागजों पर ही सिमट कर रह गई । सरकार से जो बटेश्वर वासियों को आशाए थी वह पूरी नहीं हुई ।भाजपा के जिला उपाध्यक्ष राज कुमार शर्मा ने अपने कार्य कर्ताओं के साथ बटेश्वर में मुख्य मंदिर पर पूर्व प्रधान मंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेई जी के जयंती हवन यज्ञ कर पुष्प अर्पित कर किया नमन और साधु संतों को फल वितरण किए । उनके साथ मानवेन्द्र सिंह ,अमित कुमार,देवेन्द्र चौहान शिवकुमार शर्मा, नीलू पण्डित रविन्द्र बघेल, अविनाश शर्मा, मुलायम सिंह रामबरन ,श्याम, राकेश वाजपेई अश्वनी वाजपेई, चरण सिंह पूर्व प्रधान, राम सिंह आजाद, महेश कठेरिया संजीव वर्मा स हित सभी ग्रामीण मौजूद रहे।
    आज पूर्व प्रधान मंत्री श्री अटल बिहारी बाज पे ई की जन्म भूमि पर बुधवार को समाज सेवी घन श्याम भारतीय ने एक दिन के लिए उनकी जन्म भूमि पर सुबह आठ बजे ही आकर पूर्व प्रधान मंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी जी जयंती पर एक दिवसीय की भूख हड़ताल और उन्होंने कहा जो प्रदेश की सरकार ने अटल जी के कलश विसर्जन के समय प्रदेश के मुखिया ने जो बटेश्वर की जनता से सुनहरे सपने विकास के दिखाए अभी तक प्रशासन की तरफ से अटल के नाम से कोई विकास नहीं किया गया और बटेश्वर की जनता के साथ धोखा है उन्होंने कहा कि अभी तो एक दिन की भूख हड़ताल पर बैठे है और प्रशासन को आगाह किया है । सरकार ने जो विकास का वायदा किया था उनको पूरा करे अभी सरकार के पास समय है नहीं तो हम सभी मिलकर अटल जी की पैतृक जन्म भूमि पर बैठ कर अनिश्चित भूख ह़ताल पर बैठेंगे।


अटल की जयंती पर बटेश्वर में अनशन पर बैठे घनश्याम भारतीय, बाह को ज़िला बनाने की माँग ने पकड़ा ज़ोर :

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की जयंती पर उनके खंडहर हो चुके पैतृक आवास पर समाजसेवी घनश्याम भारतीय,बबलू भारतीय अनशन के समय उन्होंने बटेश्वर की बदहाल स्थिति पर रोष प्रकट करते हुए कहा कि सरकार अपने ही वादे भूल गई है। खंडहर पड़ा अटल स्थान आप हम सबको शर्मिंदा कर रहा है। अटल के नाम पर किए गए सभी वादे अधूरे हैं, सरकार उन्हें जल्द पूरा करे। इसके साथ ही बाह को ज़िला बनाए जाने की माँग ने भी ज़ोर दिया । उन्होंने कहा कि बाह ज़िला आंदोलन को जन जन तक पहुँचाकर एक व्यापक आंदोलन किया जाएगा।